Breaking News

बिहार के 25 लोकसभा सीटों पर अपने प्रत्याशी उतारेगी आम आदमी पार्टी

Gidhaur.com (पटना) : आम आदमी पार्टी आगामी लोकसभा चुनाव में राज्य के 25 लोकसभा सीटों पर अपने प्रत्याशी उतारेगी. पार्टी के राज्य मीडिया सह-प्रभारी धनंजय कुमार सिन्हा ने बातचीत के दौरान यह संकेत दिया. उन्होंने कहा कि पार्टी हर मोर्चे पर भाजपा को कड़ी-से-कड़ी चुनौती देगी.

अन्य पार्टियों का मुँह देखने के लिए नहीं हुआ है पार्टी का निर्माण
बिहार में भाजपा द्वारा 25 सीटों पर लोकसभा चुनाव लड़ने की खबरों पर प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए उन्होंने कहा कि हर दिन भाजपा के झूठे वादों की पोल खुल रही है और हर दिन भाजपा का ग्राफ तेज़ी से नीचे की तरफ गिर रहा है. आम आदमी पार्टी के चुनाव लड़ने या नहीं लड़ने के प्रश्न पर उन्होंने कहा कि पार्टी का निर्माण अन्य पार्टियों का मुँह देखने के लिए नहीं हुआ है, बल्कि राजनीतिक तरीकों से जनता के अधिकारों की रक्षा और उन्हें अधिक-से-अधिक सुविधाएँ पहुँचाने के लिए हुआ है. उन्होंने कहा कि समय एवं जनता की माँग के अनुरूप पार्टी के बिहार प्रभारी एवं केन्द्रीय नेतृत्व इस विषय में निर्णय लेंगे.

भाजपा को हर मोर्चे पर कड़ी चुनौती देने का प्रयास करेगी.पार्टी
उन्होंने कहा कि सत्ता में आने के बाद भाजपा ने देश की जनता के साथ सिर्फ़ छल-प्रपंच ही किया. देश की अर्थव्यवस्था डूब रही है. मंहगाई से लोग परेशान हैं. स्कूल-कॉलेज बंद हो रहे हैं. स्वास्थ्य सुविधाएँ बदहाल हैं. सिर्फ़ धर्म के नाम पर लोगों को बहकाया-लड़ाया जा रहा है. युवा बेरोज़गार घूम रहे हैं. इसलिए देश के भविष्य का ख्याल रखते हुए आम आदमी पार्टी भाजपा को हर मोर्चे पर कड़ी-से-कड़ी चुनौती देने का प्रयास करेगी.
भाजपा तथा कॉंग्रेस की नीयत एवं रूचि जनहित कार्यों में नहीं 
यह पूछने पर कि क्या भाजपा को हराने के लिए पार्टी चुनाव में कॉंग्रेस या राजद से समझौता करेगी, सिन्हा ने सीधे-सीधे इनकार करते हुए कहा कि ऐसा स्वप्न में भी संभव नहीं. उन्होंने कहा कि कॉंग्रेस और भाजपा दोनों ही पार्टियों के लोग अपने-अपने व्यक्तिगत स्वार्थ में जनहित के साथ समझौता कर लेते हैं. कई स्तर पर दोनों में समानताएँ हैं एवं कई स्तर पर भ्रष्टाचार के मुद्दे पर दोनों एक-दूसरे के खिलाफ कार्रवाई न करने का भी समझौता कर लेते हैं. उन्होंने कहा कि देश की आम जनता सीधे एवं सरल मन की है, और भाजपा तथा कॉंग्रेस दोनों की नीयत एवं रूचि जनहित के कार्यों में नहीं है.
नीतीश को समर्थन पार्टी की बड़ी भूल 
नीतीश कुमार को समर्थन के प्रश्न पर उन्होंने कहा कि भाजपा और जदयू का गठबंधन साँप और मेढ़क की दोस्ती जैसा है, जिसके दुष्परिणाम का सामना भी शीघ्र ही जदयू को करना पड़ेगा. उन्होंने कहा कि आम आदमी पार्टी के केन्द्रीय नेतृत्व को इस बात का ज़रा भी आकलन नहीं था कि नीतीश कुमार भाजपा से मिल जाएँगे. उन्होंने माना कि नीतीश कुमार को समर्थन देकर पार्टी से बड़ी भूल हुई थी.

क्षमतावान युवाओं को अवसर देगी पार्टी
युवा नेता के तौर पर तेजस्वी के उभरते व्यक्तित्व के सवाल पर उन्होंने कहा कि उनसे ज़्यादा क्षमतावान हज़ारों युवा बिहार में हैं जिनके मन में राज्य एवं देश की भलाई के लिए कुछ कर गुजरने का जज़्बा है. बस उन्हें सामने आने और लाने भर की देर है. पार्टी ऐसे युवाओं को अवसर देगी. उन्होंने कहा कि आम आदमी पार्टी वंशवाद के सीधे-सीधे खिलाफ है.

(आम आदमी पार्टी के बिहार मीडिया सह-प्रभारी धनंजय कुमार सिन्हा के साथ हमारे वरिष्ठ पत्रकार अनूप नारायण की बातचीत पर आधारित)
Gidhaur.com     |      17/09/2017, रविवार