Breaking News

6/recent/ticker-posts

मलयपुर : 215 बटालियन CRPF द्वारा 'एक भारत श्रेष्ठ भारत' कार्यक्रम आयोजित


बरहट/जमुई (न्यूज़ डेस्क) :-

215 बटालियन सीआरपीएफ मलयपुर जमुई कैम्प परिसर में 'एक भारत' श्रेष्ठ भारत' के अवसर पर सांस्कृतिक कार्यक्रम का आयोजन किया गया। एक भारत श्रेष्ठ भारत 31 अक्टूबर 2015 को सरदार बल्लभ भाई पटेल के जन्मोत्सव के अवसर पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भविष्य में भारत की संस्कृति और परंपरा को बढ़ावा देने के उद्देश्य से इस कार्यक्रम का शुभारंभ किया था।


  इस अवसर पर मुकेश कुमार  कमांडेंट 215 बटालियन ने उपस्थित अधिकारीगण अधिनस्थ अधिकारीगण एवं जवानों को संबोधित करते हुए कहा कि हमारे भारत के विभिन्न राज्यों में इसके संस्कृति और सभ्यता की छटा देखने को मिलती है। एक भारत श्रेष्ठ भारत योजना से हमारे देश के विभिन्न राज्य के संस्कृति और उनके परंपरा को आपस में जानकारी हासिल करना है। बटालियन में अनेक राज्य के कार्मिक रहते हैं जो इस सांस्कृतिक कार्यक्रम के माध्यम से अपने कला का प्रदर्शन कर अपने अपने राज्य के संस्कृति और परंपरा आसाम का बिहू डांस,पंजाब का घागरा,महाराष्ट्र का गरबा कला से हम सभी को अपने राज्य के संस्कृति और परंपरा से अवगत करवाया।


उन्होंने बताया कि आगामी 30 दिसंबर को एक भारत श्रेष्ठ भारत योजना के तहत जमुई जिला के विभिन्न क्षेत्रों में 215 बटालियन के विभिन्न राज्य के जवानों के द्वारा नुक्कड़ नाटक का आयोजन स्वच्छ भारत पानी का संचय प्लास्टिक से होने वाली हानि के आधारित नुक्कड़ नाटक का आयोजन कर आम जनता को जागरूक किया जायेगा, तथा एक भारत श्रेष्ठ भारत योजना के तहत 215 बटालियन के द्वारा एक मेला का भी आयोजन किया जाएगा। जिसमें भारत के विभिन्न राज्य के खान पान का दुकान के अलावे खेलकूद बुकस्टॉल को दिखाते हुए जागरूक किया जायेगा। एक भारत श्रेष्ठ भारत के तहत आयोजन होने वाली सभी कार्यक्रमों का मूल्यांकन किया जायेगा। उच्च प्रदर्शन करने वाले कार्मिकों का मूल्यांकन के आधार पर पुरस्कृत किया जायेगा।


श्री मुकेश ने कहा कि सरकार की इस पहल का मूल उद्देश्य, देश में आंतरिक रूप से व्याप्त सांस्कृतिक अंतर को पाटकर विभिन्न राज्यों के लोगों के बीच आपसी अंतःक्रिया को बढ़ावा देना है, जो अंततः राष्ट्र की मजबूती व एकता का महत्त्वपूर्ण कारक बनेगी।
कार्यक्रम में द्वितीय कमान अधिकारी ललन कुमार उप कमांडेंट संदीप व अधीनस्थ अधिकारी व जवान उपस्थित थे।