Breaking News

विधानसभा चुनाव से पूर्व हार्दिक पटेल के बिहार दौरों के आखिर क्या मायने हैं ?


10 NOV 2019

पटना : बिहार विधानसभा चुनाव में अब चंद महीने शेष रह गए हैं। अलग-अलग पार्टियां अपने अलग-अलग दांव-पेंच चल रही हैं। इन सारे उठापटक के बीच गुजरात के युवा नेता हार्दिक पटेल के बिहार दौरों के आखिर क्या मायने हो सकते हैं ?

आज हार्दिक का सासाराम में कार्यक्रम हुआ। किंतु पटना से सासाराम पहुंचने की क्रम में जिस प्रकार हार्दिक पटेल का दर्जन से भी अधिक जगहों पर स्वागत किया गया, वह यह दर्शाने के लिए पर्याप्त है कि आगामी बिहार विधानसभा चुनाव के मद्देनजर कोई-न-कोई बिसात जरूर बिछाई जा रही है। हार्दिक पटेल के काफिले में जितनी गाड़ियां एवं युवाओं की संख्या थी, वे राजनीतिक हस्तक्षेप का ही संकेत  है।


शनिवार को पटना पहुंचने के बाद हार्दिक पटेल का कांग्रेस के वरिष्ठ नेता सदानंद सिंह से मुलाकात करना, उसके बाद शत्रुघ्न सिन्हा के आवास पर जाकर उनसे मुलाकात करना, फिर राजधानी के एक होटल में युवाओं के साथ सीधा संवाद और रविवार को सासाराम में उमड़ पड़ने वाली भीड़ के बीच में कार्यक्रम - निश्चित ही इन सबके राजनीतिक मायने हैं।

सूत्रों के अनुसार हार्दिक पटेल इस दौरे के दौरान मुख्यमंत्री नीतीश कुमार से भी मिलेंगे।