Merit Go

Breaking News

जल' और 'हरियाली' के बगैर धरती पर 'जीवन' की कोई कल्पना नहीं की जा सकती : नीतीश कुमार



26 OCT 2019

पटना : ज्ञान भवन में  मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने 'जल, जीवन और हरियाली' अभियान का उद्घाटन किया। इस योजना की लागत तकरीबन 35 हजार करोड़ है जिसे सरकार वहन करेगी। इस योजना के तहत साल में 2 करोड़ 65 लाख पौधे लगाए जाएंगे। योजना के उद्घाटन के मौके पर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार, उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी के अलावा तमाम बड़े नेता और पदाधिकारी मौजूद थे। जल, जीवन और हरियाली योजना का मुख्य उद्देश्य लोगों को जल, जीवन और हरियाली के मूल्यों को समझाकर वॉटर हार्वेस्टिंग और सूखे पड़े कुंओ को फिर से जीवित करना है ताकि हमारी धरती फिर से हरी -भरी हो जाए, और पर्यावरण में होनेवाले प्रदूषण से निपटा जा सके.

इस मौके पर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कहा कि धरती पर जल और हरियाली की उपलब्धता होगी, तभी जीवन रहेगा, अन्यथा धरती से मानव जीवन शेष हो जाएगा. उन्होंने कहा कि आनेवाले समय में जलवायु में लगातार परिवर्तन हो रहा है, जो हमारे पर्यावरण के लिए घातक है। इसीलिए जल, जीवन और हरियाली योजना की शुरुआत की गई है ताकि पार्यावरण में होने वाले प्रदूषण की चुनौतियों से निपटा जा सके। इसलिए सभी को मिलकर वृक्षारोपण और जल को बर्बाद होने से बचाना चाहिए और दूसरे लोगों को भी ऐसा करने के लिए जागरूक करना चाहिए।