Breaking News

भारी बारिश से बिहार के 15 जिलों में रेड अलर्ट, जलजमाव से जनजीवन प्रभावित




पटना [अनूप नारायण] :
बिहार में लगातार हो रही भारी बारिश के कारण 15 जिलों में रेड अलर्ट घोषित किया गया है. जिलों में स्कूलों और आंगनबाड़ी केंद्रों को दो दिनों के लिए बंद कर दिया गया है. गया, कैमूर और पटना जिलों में अब तक 5 लोगों की मौत की खबर आ चुकी है. इस बीच बिहार में आपात स्थिति को देखते हुए सीएम नीतीश कुमार ने आपदा प्रबंधन विभाग के साथ बैठक की और इसी दौरान कई जिलों के डीएम से वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए हालात की जानकारी ली. सीएम ने सभी जिलों के डीएम को पुख्ता तैयारी करने के साथ ही सोन और गंगा नदी में बढ़ते जलस्तर की वजह से बाढ़ प्रभावित जिलों में रीलीफ कैम्प तैयार रखने के निर्देश दिए।बिहार में भारी बारिश से यँहा राजधानी पटना के ज्यादातर इलाकों में जलजमाव हो गया है. निचले इलाकों के घरों में नाले का पानी घुसने और जलजमाव से लोगों का जन जीवन प्रभावित हो गया है. वहीं, राजधानी की कई सड़कों पर ब्लॉक होने से ट्रैफिक की रफ्तार थम-सी गयी है.

जानकारी के मुताबिक, राजधानी पटना में भारी बारिश के कारण बिहार विधानसभा परिसर, नालंदा मेडिकल कॉलेज एवं अस्पताल, पीएमसीएच, एनआईटी समेत कई संस्थानों में जलजमाव होने से जीवन अस्त-व्यस्त हो गया है. साथ ही पटना में वीआई आवास में भी जलजमाव हो गया है. बताया जाता है कि पूर्व मुख्यमंत्री सत्येंद्र नारायण सिन्हा, बीजेपी सांसद राजीव प्रताप रुडी, मंत्री नंदकिशोर, मंत्री कृष्णनंदन वर्मा और विधायक नौशाद आलम के आवास में बरसात का पानी घुस गया है.

इसके अलावा राजधानी के बहादुरपुर रोड, बाजार समिति रोड, बुद्ध मूर्ति, स्टेडियम रोड, कंकड़बाग, हनुमान नगर, समेत बाईपास के दक्षिण खेमनीचक राम कृष्णा नगर, जगनपुरा, ढेलवा भूपतिपुर, कछुआरा जानेवाली सड़कों पर झील-सा नजारा देखने को मिला. नालंदा मेडिकल कॉलेज एवं अस्पताल में जलजमाव होने से मरीजों का पलायन शुरू हो गया. मरीजों को ले जाने के लिए स्ट्रेचर भी पानी में पूरी तरह डूबा नजर आया. वहीं, पटना के बहादुरपुर, भूतनाथ रोड, आर ब्लॉक स्टेशन रोड में सड़कों पर पानी लग जाने से यातायात व्यवस्था चरमरा गयी है. जलजमाव से नाले का गंदा पानी और कचड़ा सड़कों पर आ गया है. निचले इलाकों में रहनेवाले लोगों के घरों में नाले का गंदा पानी घुस जाने से लोगों का जीना मुहाल हो गया है. घरों में नाले का गंदा पानी घुसने के कारण पलंग और चौकी को ऊंचा कर रात गुजारनी पड़ी. एक-दो दिन की बारिश ने पटना नगर निगम की सफाई व्यवस्था की पोल खोल कर रख दी है. हनुमान नगर में जलजमाव होने से पार्किंग की हुई कारें आधी डूब चुकी हैं. इधर, बाईपास के दक्षिण खेमनीचक राम कृष्णानगर, जगनपुरा, ढेलवा भूपतिपुर, कछुआरा जानेवाली सड़कों पर जलजमाव होने से झील-सा नजारा देखने को मिल रहा है. शहर की कई बड़ी-बड़ी इमारतों वाली कॉलोनियों की सड़कें जलमग्न हो गयी हैं.

मौसम विभाग ने अगले 48 घंटे में भारी बारिश का अनुमान जताया है. मौसम विभाग के अलर्ट के मद्देनजर जिला प्रशासन को अलर्ट कर दिया गया है. भागलपुर में भारी बारिश की संभावना जतायी जा रही है. बताया जाता है कि मुख्यमंत्री नीतीश कुमार भारी बारिश के मद्देनजर प्रभावित जिलों के जिलाधिकारियों से वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग कर हालात का जायजा लेंगे. इधर, राजधानी में बारिश के कारण पटना यूनिवर्सिटी में होनेवाली प्रवेश परीक्षा स्थगित कर दी गयी है. इसके अलावा बीएड, पीएचडी की परीक्षा भी रद्द कर दी गयी है. साथ ही शहर में होनेवाली प्रतियोगिताओं को भी अगली सूचना तक के लिए रद्द कर दिया गया है.

● राजधानी पटना का हेल्पलाइन नंबर

राजेंद्र नगर : 947319129 या 9006192686 

एसडीआरएफ अधिकारी : 9110099313

कदमकुआं : 8210286544 या 9431295882

एसडीआरएफ अधिकारी : 9801598289

पत्रकारनगर :  7992297183

एनडीआरएफ अधिकारी : 9973910810

कंकड़बाग  : 6203674823 

एसडीआरएफ अधिकारी : 8541908006

पटना सिटी  : 7903331869