Breaking News

दानापुर रेल मंडल संसदीय समिति की बैठक में शामिल हुए बिकास प्रसाद सिंह, रखी कई अहम मांगें

पटना/जमुई [सुशांत] :

दानापुर रेल मंडल अंतर्गत पड़ने वाले रेलवे स्टेशनों पर कई मूलभूत सुविधाओ का अभाव होना, सहित अन्य समस्याएं जो दिनो-दिन परेशानी को लेकर आ रहा है उसके निदान हेतु सोमवार को मंडल संसदीय समिति की बैठक दानापुर में आयोजित की गई, जिसमे जमुई सांसद चिराग पासवान के प्रतिनिधि के रूप में भाजपा प्रदेश कार्यसमिति सदस्य व DRUCC मेम्बर बिकास प्रसाद सिंह सहित दर्जनों सांसद व मंत्री शामिल हुए.

कई जनहित से जुड़े कार्यो का जमुई और झाझा स्टेशनों पर यात्रियों की सुविधाओं को प्रारम्भ करने का निर्णय बैठक में  लिया गया. जिसमे जमुई के अप प्लेटफॉर्म पर फुल शेड सहित 20 मीटर चौड़ा ऊपरी पुल का निर्माण के साथ-साथ एक रोड ओवर ब्रिज जमुई तथा एक झाझा में बनाया जाएगा. इसके अलावे जिस तरह पटना स्टेशन पर राष्ट्रीय झंडा लगाया है श्री सिंह की मांग पर बहुत जल्द जमुई स्टेशन पर भी 100 फिट ऊंचा राष्ट्रीय झंडा लगाने का बैठक में ही निर्णय ले लिया गया. जल्द ही तिरंगा झंडा जमुई रेलवे स्टेशन पर रात-दिन लहराएगा. यह अपने-आप मे ऐतिहासिक होगा !

उक्त कार्य के अलावे संसदीय क्षेत्र में पड़ने वाले स्टेशनों को आधुनिक एवं सभी सुविधा से युक्त बनाने हेतु एजेंडा लिखित में दिया गया जो निम्न है :

जमुई रेलवे स्टेशन
कई महत्वपूर्ण ट्रेनों का ठहराव सहित कई ट्रेनों का दोनों तरफ से ठहराव यात्रियों के सुविधा हेतु नितांत आवश्यक है.

इस क्षेत्र से जुड़े तीन महत्वपूर्ण रेल परियोजनाएँ सालों से हर रेल बजट का हिस्सा बनते आ रही है, पर समुचित राशि आवंटन के अभाव में इन परियोजनाओं पर कार्य शुरू होने की बात तो दूर, इसका सर्वे का कार्य भी पूरा नही हुआ, जो जनहित में बेहद महत्वपूर्ण है.

क.  पंडित दीनदयाल उपाध्याय जंक्शन से झाझा तक तीसरी लाइन का प्रावधान किस स्तर पर है इसकी जानकारी मांगी गई.

ख.   बाँका से नवादा वाया झाझा,जमुई (165 किमी) नई रेल लाइन का निर्माण.

ग.  नवादा से लक्ष्मीपुर (137 कि मी) नई रेल लाइन का निर्माण.

जमुई स्टेशन

1. काठगोदाम - हावड़ा एक्स का ठहराव

2.  SF Express के नाम से चलने वाली ट्रेन में सिर्फ हरिद्वार एक्स को छोड़कर कोई ट्रैन का ठहराव जमुई स्टेशन पर डाउन में नही होती है.

3. इन सभी ट्रेनों का ठहराव निश्चित कराया जाय.

4. हावड़ा- मिथिला एक्स अप में ठहराव निश्चित कराया जाय

5.   जिस दिन झाझा होकर पूर्वा एक्स नही चलती है उसदिन पूर्वा एक्स के समय चलने वाली अकालतख्त एक्स ट्रेनों का ठहराव जमूई में निश्चित कराया जाय,ताकि आम यात्रियों को आवागमन में परेशानी नही हो

6. जमुई स्टेशन के सौंदर्यीकरण हेतु किया गया शिलान्यास जिसे त्वरित कार्य करके पूरा किया जा सकता है

7. अप प्लेटफॉर्म में बना आधा शेड को पूरे प्लेटफॉर्म में शेड लगाना,

8. अति विशिष्ट कक्ष का निर्माण,

9. रेलवे क्षेत्र के एरिया को अतिक्रमण से मुक्ति हेतु चहारदीवारी का निर्माण ,

10. मालवाहक ट्रैन के लिए पक्कीकरण प्लेटफॉर्म का निर्माण

11. पानी निकास हेतु बेहतर नाला का निर्माण सहित अन्य कार्य जिससे स्टेशन को मॉडल के रूप में परिवर्तित किया जा सके

12. पूरे स्टेशन क्षेत्र में सफाई की मुक्कमल व्यवस्था अतिआवश्यक है,जो वर्तमान में स्वच्छता के रूप में दिखाई नही देता है

13. कर्मचारियों के लिए काफी जर्जर आवास की व्यवस्था है,जिसमे उनलोगों को रहना मुश्किल है,उनसभी के लिए वर्ग 3rd एवं 4rth के लिए एक अपार्टमेंट बनाया जाय,जिससे वो सभी यहां रहकर कार्य कर सके

14. कटौना को होल्ट का दर्जा देकर वहां एक टिकट काउंटर खोला जाय,जिससे 8 पंचायत के करीब 50 हज़ार से अधिक की आवादी को गंतव्य स्थानों तक पहुचने के लिए परेशानी नही हो

15. गिद्धौर स्टेशन का डाउन प्लेटफॉर्म काफी नीचे होने के कारण कई बार यात्रियो खासकर बुजुर्ग एवं महिलाओ को अपनी जान गवानी पड़ी है,इसे अविलंब ऊंचा किया जाय

झाझा स्टेशन
1. झाझा में वर्कलोड के अभाव में जीर्ण-शीर्ण हो रहे नन पिरयोडिकल ओवर होलिंग(NPO) शेड में LHB कोचों के मेंटेनेंस का वर्कलोड दे , बर्बाद होते उक्त संसाधन का सदुपयोग हो सके

2. झाझा में उपलब्ध वाशिंग पिट वर्तमान में सप्ताह के एक ही ट्रेन का मेंटेनेंस का वर्कलोड दिया गया है,उस वर्कलोड को बढ़ाकर पिट के क्षमता का अधिकतम उपयोग किया जा सकता है

3. पटना से विभिन्न स्टेशनों के लिए खुलने वाली के ट्रेनें घंटो-घंटो तक पटना के सीमित यार्ड में सुस्ताती रहती है !यदि इन ट्रेनों को झाझा तक विस्तारित कर दिया जाता है तो इससे पटना -झाझा के बीच के कई जिलों के यात्रियों को उन ट्रेनों का विकल्प भी सुलभ हो जाएगा,और रेल को राजस्व लाभ भी होगा साथ ही उक्त ट्रेनों की मेंटेनेंस का वर्कलोड भी बहुतायत ट्रैक वाली झाझा स्टेशन के पिट में हो जाएगी

4. झाझा रैलनगरी का एक बहुत बड़ा भू-भाग अनुपयोगी पड़े रहने से अतिक्रमण एवं अबैध कब्जो का शिकार हो रहा है,उक्त भूखंडों पर कमर्शियल काम्प्लेक्स या अन्य सुसंगत इस्तेमाल के जरिये इसका सदुपयोग किया जा सकता है

5. झाझा में रेलवे का बहुत बड़ा तालाब है,जिसे अब झाझा में गंदगी और कचरा डाल कर पूरी तरह खराब कर दिया गया है,ठीक उसके सटे बड़ी भू-भाग में कभी रंग विरंगे फूल-पौधा से सुसज्जित रहा करता था,जहां आज काफी झाड़ी और गलत कार्यो के लिए असामाजिक तत्व उपयोग करते है,इसे पुनः सुंदर बागवानी के रूप में परिवर्तित किया जा सकता है

6. झाझा स्टेशन से भागलपुर,गया,धनवाद एवं आसनसोल के लिए एक-एक जोड़ी एक्सप्रेस वे मेमू ट्रैन शुरू किया जा सकता है

7. 12253/54 भागलपुर -यशवंतपुर अंग एक्सप्रेस का झाझा में कमर्शियल ठहराव किया जाना आवश्यक है !

भाजपा प्रदेश कार्यसमिति सदस्य व DRUCC मेम्बर बिकास प्रसाद सिंह ने कहा कि उक्त सभी कार्य जनहित में बेहद आवश्यक है. मेरे क्षेत्र अंतर्गत उक्त सभी विकासोन्मुख कार्य अविलंब कराया जा सकता है. उपरोक्त एजेंडे के साथ जीएम महाप्रबंधक हाजीपुर ललितचंद्र त्रिवेदी जी को अविलंब नियमतः अमल में लाने का आग्रह किया हूँ.

रेल मंडल संसदीय समिति की बैठक में राज्यसभा सांसद सीपी ठाकुर ने अध्यक्षता की. जबकि केंद्रीय मंत्री व बक्सर सांसद अश्वनी चौबे, पाटलिपुत्रा सांसद रामकृपाल यादव, नवादा सांसद चंदन सिंह, नालंदा सांसद कौशलेंद्र कुमार, गाजीपुर सांसद (यूपी) अफजल उस्मान अंसारी, दानापुर डीआरएम प्रकाश रंजन ठाकुर, सीनियर डीसीएम पुष्कर राज, अपर रेल प्रबन्धक अरविंद रजक सहित जोन के दर्जनों पदाधिकारी उपस्थित थे.