Breaking News

अयोध्या पर बोले युवा लोजपा के जमुई जिलाध्यक्ष ई. निर्भय - फैसले का करें सम्मान, देश हमारा, आपसी भाईचारा बना रहे

जमुई : शनिवार का दिन देश के लिए ऐतिहासिक रहा. दशकों से चले आ रहे अयोध्या विवाद का सर्वोच्च न्यायालय ने निबटारा कर दिया. एक तरफ जहाँ विवादित जमीन रामजन्मभूमि न्यास को मंदिर निर्माण के लिए दिया गया वहीं सुन्नी वक़्फ़ बोर्ड को मस्जिद निर्माण के लिए अयोध्या में ही 5 एकड़ भूमि मस्जिद निर्माण के लिए देने का आदेश दिया. सभी दलीलों और सबूतों को ध्यान में रखते हुए सुप्रीम कोर्ट ने यह फैसला सुनाया.

अयोध्या विवाद के फैसले को लेकर युवा लोक जनशक्ति पार्टी के जमुई जिलाध्यक्ष ई. निर्भय सिंह ने कहा कि मैं सभी से अपील करता हूं कि सर्वोच्च न्यायालय के इस फैसले का हम सभी मिलजुलकर सम्मान व आदर करें. अफवाहों से सावधान व सजग रहें. किसी भी प्रकार के बहकावे में ना आवें. आपसी भाईचारा, संयम, अमन-चैन, शांति, सद्भाव व सौहार्द बनाए रखने में पूर्ण सहयोग प्रदान करें.

ई. निर्भय ने कहा कि दशकों से चले आ रहे श्रीराम जन्मभूमि के इस कानूनी विवाद को आज इस निर्णय से अंतिम रूप मिला है. हम भारत की न्याय प्रणाली व सभी न्यायमूर्तियों का अभिनंदन करते हैं. श्री राम जन्मभूमि पर आए सर्वोच्च न्यायालय के फैसले का मैं स्वागत करता हूँ. यह निर्णय भारत की एकता, अखंडता और महान संस्कृति को और बल प्रदान करेगा. देश हमारा है, हम सभी का है, कुछ भी हो, हमारा प्रेम, हमारी मोहब्बत, हमारा भाईचारा, हमारा आपसी सौहार्द खराब ना हो, यह हम सभी की ज़िम्मेदारी है. आज आवश्यकता है अमन व मोहब्बत के पैगाम को सभी तक फैलाएं , नफरत व वैमनस्य को परास्त करें."