Breaking News

आरती नागपाल ने किया वेदांत नागपाल के पहले म्यूज़िक विडियो एलबम "एलिफैंट हेड" को लॉन्च

मनोरंजन [अनूप नारायण] :
आरती नागपाल ने किया वेदांत नागपाल के पहले म्यूज़िक विडियो एलबम " एलिफैंट हेड " को लॉन्च किया. वेदांत इसमें एक्टर, संगीतकार, गीतकार, एडिटर, रैपर और डायरेक्टर भी हैं. बॉलीवुड की मशहूर एक्ट्रेस आरती नागपाल ने समाज में बढते अत्याचार और औरतों के साथ हो रही बदतमीज़ी पर एक प्रभावी शॉर्ट फिल्म ‘ एब्यूज ’ बनाई थी. इस फिल्म को हाल ही में दादासाहेब फाल्के गोल्डन केमेरा अवार्ड से नवाजा गया हैं. उन्होंने न केवल इस लघु फिल्म में एक्टिंग की थी बल्कि कहानी भी लिखी और निर्देशन भी किया था.
अब आरती नागपाल का बेटा वेदांत नागपाल भी बॉलीवुड में एंट्री कर चुका है लेकिन सिर्फ बतौर एक्टर ही नहीं बल्कि संगीतकार, गीतकार, एडिटर, रैपर और डायरेक्टर के रूप में वेदांत ने अपना पहला म्यूज़िक विडिओ लॉन्च किया. वो अपने परनाना श्री विठट्लदास जी के नक्शेकदम पर है जिन्होंने १९२२ से लगभग ४० फ़िल्मों मे एक कलाकार के अलावा दिगदर्शन और प्रोड्यूस की जीन में से कई फ़िल्मों में उन्होंने संगीत दिया, गीत लिखें, एक्टिंग भी की हैं. वेदांत फ़िल्म इंडस्ट्री में चौथी जनरेशन हैं.
अक्स स्टूडियो प्रस्तुत सिंगल 'एलिफैंट हेड' से वेदांत नागपाल इंट्रोड्यूस हो रहे हैं. वह इस एलबम के संगीतकार, गीतकार, एडिटर, रैपर, डायरेक्टर हैं साथ ही वीएफएक्स, प्रोडकशन भी किया. इसके म्यूज़िक विडिओ में आरती नागपाल, वेदांत नागपाल और अनन्या शर्मा नजर आ रही हैं. इसके डिओपी यश जयसवाल, म्यूज़िक कम्पोज़िशन ऋषि सिंह, आरती नागपाल कि बेटी कॉस्ट्यूम डिजाइनर प्रियांशी नागपाल, सिंगर तिशिका जैन, पेंटिंग विजय लक्ष्मी, प्रोडकशन डिजाइनर प्रिंसी नगडा, कोरिॉग्राफर रुचि शर्मा काकडे, मेकअप जयवंत ठाकरे, हेयर प्रिया जविया और ग्राफिक डिजाइनर त्रीश ठाकुर हैं. कॉस्ट्यूम डिजाइनर प्रियांशी नागपाल का है. वे फिलहाल स्टूडेंट है लेकिन भाई को सपोर्ट करना है, तो प्रियांशी ने प्यार से स्टाईलिंग, ड्रेस डिजाइन से सजाया.
मुंबई के बांद्रा कुर्ला कॉम्प्लेक्स में स्थित इल्युमिनाटी में इस एलबम की भव्य लॉचिंग पार्टी रखी गई जहां इस एल्बम से जुड़ी पूरी टीम मौजूद थी. भारी बारिश के बावजूद यहां मेहमानों और मीडियाकर्मियों की काफी संख्या थी. लॉचिंग पार्टी मे शामिल हुए मेहमान राम मिरचंदानी (इरॉस नॉव), विशाल सुदर्शनवार संग पत्नी एल्सा निलाज, गिरीश वानखेड़े, इस्माईल जी, हॅरी वर्मा, ऊसके अलावा उनके ख़ास अहमदाबाद से आये हुए द्वारकेश डिवाईन के पार्टनर केतन शेठ जिसकी आरती ब्रांड ऐबेसेडर हैं वो भी आये हूये थे. सब ने वेदांत की इस पहली कोशिश की खूब सराहना की.
अपने पहले म्यूज़िक विडिओ को लेकर बेहद उत्साहित वेदांत नागपाल ने कहा कि एक बार गणपति विसर्जन की वजह से ट्रैफिक में वह घंटो फंसे थे, उससे प्रभावित होकर उन्होंने एक रात में यह गीत लिखा. इस गीत का थॉट यह है कि अगर गणपति जी आज यहां होते तो क्या सोचते?'
अपनी माता के साथ पिछले दो साल से वो घर में ही मीट्टी के गणपति बाप्पा बनाकर धर में ही विसर्जन करते हैं.
हिंदी के बजाय अंग्रेजी में इस एलबम को जारी करने की वजह बताते हुए वेदांत ने कहा कि मैं दिल से लिखता और सोचता हूं. यह गाना भी मैंने दिल से लिखा है. मै अंग्रेजी में अपने जज्बात को एक्सप्रेस ठीक से कर सकता हूं."
अपनी माँ आरती नागपाल के बारे में वेदांत ने कहा कि वही मेरी मां हैं और मेरे पिता भी. उनके सपोर्ट के बिना मै कुछ भी नहीं कर सकता."
अपने पुत्र के इस पहले कदम से बेहद उत्साहित और इमोशनल आरती नागपाल ने कहा कि अभी तक वेदांत की इंजिनीयरिंग का रिजल्ट भी नहीं आया है, लेकिन फिल्म के तकनीकी क्षेत्र में इसकी रुचि बेहद गहरी है. मेरी शॉर्ट फिल्म अब्यूज में इन्होंने प्रोडकशन का काम किया था. आज दुनिया भर में ग्लोबल वार्मिंग बढ़ रही है, विसर्जन की वजह से नेचर के साथ गड़बड़ ना हो,किसी इंसान को कोई परेशानी ना हो. इस विडिओ में यह मैसेज दिया गया है. मै सबसे अपील करूंगी कि ईको फ्रेंडली चीजों को बढ़ावा दें."
आरती नागपाल इस विडिओ में कत्थक करती हुई भी नज़र आ रही है. इस बारे में इन्होंने कहा "मैंने बचपन में भरतनाट्यम सीखा हुआ है. इस वीडियो में मैने कथक नृत्य पहली बार कुछ ही घंटों की रिहर्सल के बाद किया है."
वेदांत ने यहां कहा कि मुझे बड़ी ख़ुशी है कि यहाँ कई मेहमान शामिल हुए और सब ने मेरी इस छोटी सी कोशिश को सराहा. सारे मेहमानों ने मुझे इसके लिए ढेर सारी बधाई दी, और मेरा हौसला बढ़ाया. इस मौके पर विवान उनके कज़ीन भाई का बर्थ डे होने के कारण एक स्पेशल केक काटकर इसका जश्न सब लोगों ने मनाया, विघिका नागपाल भी अपने भाई के सपोर्ट के लिये मौजूद थी.