Breaking News

रतनपुर : जलजमाव से जूझ रहा है 6 और 2 नं. वार्ड, प्रतिनिधि उदासीन

[न्यूज़ डेस्क | अभिषेक कुमार झा] :-

गिद्धौर प्रखंड के रतनपुर पंचायत अन्तर्गत वार्ड नं. 6  मुसहरी की स्थिति जलजमाव के नारकीय हो गई है। वार्ड में न तो पीसीसी सडक है और न ही नियोजित तरीके से पानी निकालने के लिए नाली। वार्ड के अधिकांश भाग सुदूर परिवेश में ही हैं, जहां कई बुनियादी जरूरतों का अभाव है।


इनमें से सबसे आवश्यक जल निकासी की व्यवस्था करना है। जलजमाव की समस्या ने वार्ड 6 मुसहरी की सूरत बिगाड़ दी है। कहने को वार्ड में विकास का कार्य हुआ, लेकिन जगह-जगह कचरे की समस्या से मुसहरी के लोग अभी भी परेशान हैं।


 इस समस्या के लिए बहुत हद तक स्थानीय प्रतिनिधि के साथ साथ मुसहरी के लोग भी जिम्मेदार हैं। जलजमाव और गंदगी की समस्या से रात के वक्त लोगों को यहां आवाजाही करने में काफी परेशानियों का सामना करना पड़ता है। इन समस्याओं से बीमारी की आशंका भी बनी रहती है। 



 -- वार्ड नंबर 2 की स्थिति भी चिंताजनक --

अब रतनपुर पंचायत के वार्ड नंबर 2 को ही देख लीजिए। यहां के निवासी को ये पता ही नहीं कि इस वार्ड में कभी विकास कार्य हुआ भी है, स्वाभाविक है इस तस्वीर से आप सात निश्चय योजना का अंदाजा लगा सकते।  जल जमाव और बरसाती दिनों में कीचड़ होने से स्थानीय ग्रामीण पंचायत प्रतिनिधियों को कोसते नजर आते हैं।
यूं तो रतनपुर पंचायत में विकास कार्यों को लेकर अनेक योजना आई लेकिन ग्रामीणों की मानें तो, स्थानीय जनप्रतिनिधियों की उदासीनता के कारण कई योजनाएं धरातल पर नहीं उतर सकी।

- कहते हैं वार्डवासी

मुख्यमंत्री निश्चय योजना का लाभ वार्ड छः एवम 2 के निवासी को पूरी तरह से नहीं मिल सका है। वार्ड में पेयजलापूर्ति, गंदा पानी निकासी, शिक्षा, चिकित्सा आदि पर काम करना बाकी है। जिसके लिए जन प्रतिनिधि की उदासीनता प्रमुख रूप से जवाबदेह है।