Breaking News

जमुई : प्राइवेट कंपनी के कर्मी से दिनदहाड़े 11.43 लाख की लूट, पुलिसिंग पर लगा प्रश्न चिन्ह

न्यूज़ डेस्क | गुड्डु / अभिषेक】:-

जमुई में बढ़ते अपराधिक ग्राफ ने एक बार फिर पुलिस की कार्यशैली पर बड़ा प्रश्न चिन्ह लगा दिया है। मामला जमुई के महिसौड़ी सटे त्रिपुरारी सिंह मार्ग की है जहां सोमवार दोपहर रेडियंट कैश सर्विस मैनेजमेंट प्राइवेट के कर्मी ₹11.43 लाख लूट के शिकार हुए हैं।


एकत्रित जानकारी के मुताबिक,  जमुई स्थित वी -मार्ट से पैसा लेकर एसबीआई में जमा करने जा रहे रेडियंट कैश सर्विस मैनेजमेंट में कार्रयत कर्मी ललित सिंह से रुपयों का भरा बैग छीन कर दो बाइक पर सवार हथियारबंद अपराधियों ने लूट की घटना को आसानी से अंजाम दे दिया।

■ [क्या है पूरा घटना क्रम] :-

पीड़ित कलेक्शन एजेंट ललित सिंह जमुई के बिहारी के रहने वाले हैं। जो बड़े प्रतिष्ठानों से पैसे संग्रह कर जमा करने का काम करते थे। रोजाना की तरह सोमवार को भी वे दो-तीन प्रतिष्ठानों से रुपये संग्रह के बाद जमुई के वी-मार्ट पहुंचे, जहां से निकलने के बाद त्रिपुरारी सिंह लेन में दो बाइक सवार हथियार से लैश अपराधियों ने रूपये का बैग लूट कर नौ दो ग्यारह हो गए। लूट के दौरान बाइक सवार अपराधियों ने दो राउंड हवाई फायरिंग भी की। ऐसे कयास लगाए जा रहे हैं कि घटना को अंजाम देने वाले अपराधी काफी समय से कैश एजेंट ललित पर अपनी नजर बनाए हुए थे।


■ [जमुई एसपी ने खंगाला सीसीटीवी फुटेज] :-

घटना की सूचना मिलते ही अपने दल-बल के साथ एस पी जे. रेड्डी वी-मार्ट पहुंचे। वहाँ उन्होंने पूरे घटनाक्रम की बारीक जानकारी ली। फिर पीड़ित से बातचीत के बाद उन्होंने वी-मार्ट में लगे सीसीटीवी फुटेज को भी खंगाला।तकरीबन पौन घंटे तक पुलिस की पूछताछ जारी रही। ख़बर लिखे जाने तक पुलिस दो लोगों को शक के आधार पर हिरासत में लेने की ओर अपना कदम बढ़ा चुकी थी।

■ [आजाद घूमते हैं अपराधी , पुलिस विफल] :-

 यहां पाठकों को यह बता दें कि, जमुई में दिनदहाड़े लूट की ये तीसरी घटना है। तीनों घटना के अपराधी फिलहाल पुलिसिया पकड़ से बाहर है। जमुई जैसे व्यस्त जगहों पर दिनदहाड़े लूट की इस घटना से स्थानीय निवासी सहमे हुए हैं, आपराधिक भय बना हुआ है। वहीं सोमवार को हुए इस घटना ने पुलिस के माथे पर चिंता की लकीरें बढ़ा दी है।