Breaking News

चकाई : संदेहास्पद स्थिति में शिक्षक का शव बरामद, न्याय की आस में है पीड़ित परिवार


चकाई (श्याम सिंह तोमर) Edited by- Abhishek :-

चकाई थाना क्षेत्र चितरडीह गांव स्थित एक कुएं से शनिवार की सुबह एक शिक्षक की शव मिलने से सनसनी फैल गई।


 दुलमपुर पंचायत स्थित चितरडीह विद्यालय में कार्यरत शिक्षक नीरज कुमार की मौत संदेहास्पद स्थिति में हो गई। मृतक का शव चारपाई में रस्सी बांधकर कुएं में पड़ा हुआ था जिससे सन्देहास्पद प्रतीत हो रहा था। घटना की सूचना मिलते ही चकाई थाना के अ.नि. संजीत कुमार एवं अशोक कुमार दलबल के साथ घटना स्थल पर पहुंच चितरडीह गांव निवासी जग्गू राम के कुएं से शव को बरामद किया। कुएँ से बाहर निकाल कर गहन जांच पड़ताल कर उसे पोस्मार्टम हेतु जमुई सदर अस्पताल भेज दिया। अंतिम बार मृतक नीरज पत्नी नीतू , भाई, पिता को बताया था कि मुझे बांधकर मार रहा है, अपराधी मुझे मार देगा।


{पूर्व से ही मिल रही थी धमकी}

चकाई थाने में दिए आवेदन में मृतक के भाई विकास कुमार (पिता- अशोक सिंह,ग्राम- वलीपुर, थाना- जमालपुर, जिला मुंगेर) ने बताया कि शुक्रवार की शाम 7:30 बजे नीरज ने अपनी पत्नी नीतू देवी को फोन किया कि रामदेव यादव उर्फ रवि यादव पिता नुनेशर यादव, प्रयाग यादव के पुत्र भादो यादव एवं वासुदेव यादव के पुत्र कांग्रेस यादव  जो दुलमपुर गाँव के निवासी हैं मुझे जंगल मे बांधकर ले गया तथा बोला कि हमलोग नक्सली हैं, तुम्हें चुनाव का पर्चा नहीं बाटने दूंगा तथा मार दूंगा। पति से बात होते ही  नीतू नें तत्काल इसकी सूचना पति तथा देवर को दिया। रात्रि 8:20 बजे जब भाई एवं पिता ने बात की तो नीरज ने बताया था कि जब वह चुनाव का पर्चा बांट रहा था तभी उपरोक्त तीनों व्यक्ति आया और अपने आप को नक्सली बताकर जंगल ले गया तथा वहां बांधकर उसकी खूब पिटाई की। इतना बात होते ही मोबाइल स्विच ऑफ हो गया। बाद में रात्रि साढ़े 9 बजे चितरडीह विद्यालय के प्रभारी प्रधानाध्यापक कृष्णा यादव से बात हुई तो उन्होंने सूचना दी कि नीरज की मौत हो गई है। जब परिजन सुबह 7:30 बजे चितरडीह पहुंचे तो उनलोगों नें लाश को एक कुंआ में पड़ा देखा। जब लाश को बाहर निकाला गया तो देखा गया कि उसके सर में चोट लगी थी।



{क्या कहते हैं थानाध्यक्ष} :-

इस संबंध में चकाई थानाध्यक्ष चंद्रेश्वर पासवान ने बताया कि मामला संदेहास्पद है। आवेदन के आलोक में हर पहलू की गहराई से जांच की जा रही है। साथ ही पोस्टमॉर्टेम रिपोर्ट का भी इंतजार किया जा रहा है। अगर मामला हत्या का पाया गया तो आरोपियों को जल्द गिरफ्तार कर लिया जाएगा।

{शिक्षक संघ ने की निष्पक्ष जांच की मांग}

इधर, इस घटना पर दुख जताते हुए, बिहार पंचायत- नगर प्रारंभिक शिक्षक संघ के प्रदेश अध्यक्ष आनंद कौशल सिंह ने प्रशासन से घटना की निष्पक्ष जाँच की माँग की ताकि सही मामला उजागर हो और पीड़ित परिवार को न्याय मिल सके।