Breaking News

हार का ठीकरा इवीएम पर फोड़ने की शुरुआत विरोधियों ने पहले से कर दी है : मोदी

सेंट्रल डेस्क :
बुधवार को झारखंड के लोहरदगा जिले में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रैली को संबोधित किया. यहाँ उन्होंने कहा कि तीन चरण के मतदान के बाद, 300 सीटों पर वोट पड़ने के बाद अब विरोधियों के लिए खुले रूप से पराजय स्वीकार करने के सिवाय कोई चारा नहीं बचा है. अपनी हार का ठीकरा इवीएम पर फोड़ने की शुरुआत इन्होने पहले से ही कर दी है.

उन्होंने यह भी कहा कि दिल्ली में आपने मजबूत सरकार बनायी, तभी आज नक्सलवाद-माओवाद पर हम इतना काबू पा सके हैं. भाजपा-एनडीए सरकार के प्रयासों का ही परिणाम है कि देश में नक्सल प्रभावित जिलों की संख्या में बहुत कमी आयी है. झारखंड में भी आप इसका अनुभव कर रहे हैं कि पहले जिन इलाकों में दिन ढलने के बाद लोग घर से बाहर निकलने से डरते थे, वहां अब स्थितियां तेजी से बदल रही हैं.

श्रीलंका के हमले का जिक्र करते हुए मोदी ने कहा कि 2014 के पहले भारत में भी ऐसी ही स्थिति थी. आतंकवादी भारत में हमला करते थे और कांग्रेस सरकार डरती रहती थी. प्रधानमंत्री ने कहा कि अफगानिस्तान में फादर प्रेम को आतंकियों ने पकड़ लिया. उसी प्रकार से फादर टॉम को भी आइएस के आतंकियों ने पकड़ लिया था. यहां के सारे चर्च से लोग मेरे पास आते थे कि इन्हें बचाइए. आपका ये चौकीदार बारी-बारी से उन्हें छुड़ाकर लाया और उनके परिवार के सुपुर्द कर दिया.