Breaking News

अलीगंज : सेहत को तंदुरूस्त रखने के लिए मौसमी फलों का जरूर करें सेवन


अलीगंज। चंद्रशेखर सिंह】:-

मौसम चाहे जो भी हो अक्सर लोग फलों का सेवन पर विशेष ध्यान नहीं देते हैं, लेकिन गर्मी में फलाहार को महत्व देने से ना सिर्फ चिलचिलाती धुप की तपिश से बचा जा सकता है, बल्कि जटिल रोगों से भी राहत पाई जा सकती है। कई जटिल रोग ऐसे होते हैं, जिससे गर्मी में शरीर में पानी और पोषक तत्वों की कमी हो जाने के चलते समस्याएँ बढ़ जाती है। गर्मी में राहत के लिए प्राकृतिक ने हमें ऐसे ही कुछ फलों के रूप में उपहार दिया है, जिसका खासियत यह है कि उनमें अलग-अलग तरह के विटामिन सोडियम ,पोटेशियम और लवण तत्व पाये जाते हैं। जो पानी की कमी को दूर करता है, और गर्मी में होने वाले बीमारियो से बचाव कराता है। जैसे सेब,केला,नारियल, नास्पति, पपीता,अमरूद, मौसमी फल,अनार,गाजर ,खीरा,ककड़ी आदि फलों का अलग-अलग गुण पाये जाते हैं।


तरबूज हृदय रोगियों के लिए भी है फायदेमंद】:-

गर्मी में अगर मौसमी फल लिये जाए तो बढ़ती तापमान के जटिल रोगों पर पड़ते असर को कम किया जा सकता है। डॉ. अखिलेश मोहन बताते हैं कि गर्मी में मौसमी फल के सेवन से बहुत रोगों से बचा जा सकता है। गुरदे की बीमारी से पीड़ित लोगों को गर्मी के दिनों में सेब रोज एक पीस खाना चाहिए तथा लकवे से पीड़ित रोगियों को तरबूज लेना चाहिए । जिसमें काफी मात्रा में एंटीऑक्सिडेंट पाये जाते हैं। जो इस रोग की असर को कम करती है। उन्होंने कहा कि स्ट्रबेरी में इंजाइम पाये जाते हैं,जो गर्मियों में जोड़ों के दर्द या गठिया की तकलीफ बढ़ने पर असरकारक होते हैं। विटामिन की पूर्ति के लिए फल जरूरी है। हर मौसम में फलाहार करना चाहिए, लेकिन गर्मी में यह जरूरी है।