Breaking News

अलीगंज : भूमिगत जल स्तर नीचे जाने से पेयजल के लिए लोगों की बेचैनी बढ़ी

अलीगंज | चंद्रशेखर सिंह】:-

गर्मी का पारा जैसे-जैसे बढ़ रहा है, भूमिगत जल स्तर नीचे तेजी से खिसकता जा रहा है। इस कारण अलीगंज प्रखंड के सहित सुदूर ग्रामीण क्षेत्रों में पेयजल संकट आमजन को बेचैनी बढ़ा दिया है। ऊपरी लेयर में लगा अधिकांश चापाकल और बोरिंग फेल होकर पानी उगलना बंद कर दिया है। पीने की पानी को लेकर सुदुर ग्रामीण क्षेत्रों में गरीब लोगों को ज्यादा परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है।
प्रखंड क्षेत्रों में मुख्यमंत्री सात निश्चय योजना  के तहत घर नल जल योजना भी  अभी तक क्षेत्र में पुरी तरह नही लग पाया है। प्रखंड के कुछ जगहों पर लगा भी है। तो गुणवत्ता हीन या कम गहराई के कारण बेकार साबित हो रहा है। इस योजनाओं से आमजन को कम ठेकेदार को ज्यादा फायदा हो रहा है। ग्रामीण बताते हैं कि भीषण गर्मी के कारण लोगों को पीने के पानी के लिए काफी मशक्कत करनी पड़ रही है।लोगों को गांव में एक दो लोगों के लगे समरसेबुल मोटर से पानी लेकर लोग अपनी प्यास को बुझाने को विवश हैं। ग्रामीण ब्रह्मदेव सिंह, भानु प्रताप, सुलेखा देवी ने बताया कि पीने की पानी के लिए लोगों को काफी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। ग्रामीण कई बार पीएचईडी विभाग को आवेदन देकर सुदुर ग्रामीण क्षेत्रों में खराब पड़े चापाकल मरम्मत कराने की मांग की गई। लेकिन पीएचईडी विभाग के अधिकारियों के द्वारा सिर्फ आश्वासन ही मिलता रहा है।लेकिन आज तक बेकार पड़े चापाकल ठीक नही कराया गया है। अगर चापाकल ठीक हो जाता तो कुछ हद तक लोगों की प्यास बूझ सकती है।पीएचईडी विभाग के कार्यपालक अभियंता कुमार बिंदु भूषण ने बताया कि खराब पड़े चापाकल को ठीक कराया जा रहा है।