Breaking News

खुशखबरी! श्रमिकों को पीएम का सम्मान, मिलेगी तीन हज़ार की पेंशन


[न्यूज़ डेस्क | अभिषेक कुमार झा] :-

देश के असंगठित कामगारों के लिए प्रधानमंत्री श्रम योगी मानधन योजना के  तहत पेंशन की सुविधा उपलब्ध कराई जा रही है| असंगठित कर्मकार के लिए यह एक महत्वाकांक्षी पेंशन योजना है| इस योजना का लाभ वैसे असंगठित कर्मकार जिसकी मासिक आय 15,000 रुपये से अधिक नहीं है और उम्र 18 से 40 वर्ष तक है उसे मिल सकेगा| 


इस पेंशन योजना का लाभ लेने के लिए लाभुक कर्मकारों को मासिक अंशदान के रूप में 55 रुपये से लेकर 200 रुपये तक मासिक किस्त जमा करनी होगी| नियमित अंशदान करने एवं 60 वर्ष की आयु पूर्ण होने के पश्चात 3000 रुपये मासिक पेंशन कर्मकारों को मिलेगा| पेंशन प्राप्त करने के दौरान मृत्यु होने पर उनके आश्रित परिवार पत्नी/पति को पेंशन का 50 फीसदी राशि प्रतिमाह मिल सकेगी|
यदि आप गिद्धौर अथवा इसके आसपास क्षेत्र के निवासी हैं तो प्रधानमन्त्री के इस महत्वकांशी योजना का लाभ लेने के लिए अपने निकटतम वसुधा केंद्र से संपर्क कर सकते हैं|  प्रधानमंत्री श्रमयोगी मानधन पेंशन योजना का रजिस्ट्रेशन जीवन बीमा निगम (LIC) के सभी कार्यालयों में भी कराया जा सकता है|



असंगठित क्षेत्र में काम करने वालों पर ही यह स्कीम लागू है। इनमें ड्राइवर, प्लंबर, दर्जी, मिड-डे मील वर्कर, रिक्शा चालक, निर्माण कार्य करने वाले मजदूर, कूड़ा बीनने वाले, बीड़ी बनाने वाले, हथकरघा, कृषि कामगार, मोची, धोबी, चमड़ा कामगार घर में काम करने वाले, रेहड़ी लगाने वाले दुकानदार, इत्यादि शामिल हैं। 
इस सन्दर्भ में भीएलई दिलीप कुमार दास ने विस्तृत जानकारी साझा करते हुए बताया कि अधिक से अधिक प्रचार प्रसार कर असंगठित क्षेत्र के मजदूरों को इस योजना से जोड़ना राज्य सरकार का लक्ष्य है| रजिस्ट्रेशन कार्य तब तक चलेगा जब तक शत-प्रतिशत असंगठित श्रमिक इस योजना के दायरे में आएंगे| श्री दास ने बताया कि इस स्कीम के तहत असंगठित क्षेत्र में काम कर रहे लोगों को 60 साल की उम्र के बाद 3000 रुपए प्रति माह की पेंशन दी जाएगी। मेगा पेंशन स्कीम से जुड़ने के लिए असंगठित क्षेत्र में काम करने वाले कर्मी की मासिक आय 15,000 रुपये से अधिक नहीं होनी चाहिए। पात्र व्यक्ति का सेविंग बैंक अकाउंट और आधार नंबर होना चाहिए। उन्होंने यह भी बताया कि पहले से ही केंद्र सरकार की सहायता वाली किसी अन्य पेंशन स्कीम का सदस्य होने पर वर्कर मानधन योजना के लिए पात्र नहीं होगा।


एकत्रित जानकारी अनुसार, प्रधानमंत्री श्रम योगी मानधन पेंशन योजना लाइफ कॉर्पोरेशन ऑफ इंडिया (एलआईसी) द्वारा संचालित की जा रही है| निकटतम भविष्य में सभी जिला मुख्यालयों, प्रखंड स्तर, नगर निकाय एवं ग्राम पंचायतों में कैंप लगाकर मजदूरों का रजिस्ट्रेशन कराये जाने की तैयारी भी की जा रही है|.