Breaking News

रतनपुर : रंग दर्पण की टीम ने नुक्कड़ नाटक के जरिये लोगों को किया जागरूक

दहेज प्रथा, बाल विवाह एवं शराबबंदी पर नुक्कड़ नाटक कर लोगों को किया जागरूक...

रतनपुर/गिद्धौर (भीम राज) :
गिद्धौर प्रखंड अंतर्गत रतनपुर गांव में रविवार को पटना की संस्था रंग दर्पण की टीम द्वारा दहेज प्रथा, बाल विवाह एवं शराबबंदी पर नुक्कड़ नाटक आयोजित करके सैकड़ों लोगों के बीच जागरूकता फैलाई गई। टीम के सदस्यों ने नुक्कड़ नाटक, गीत-संगीत के माध्यम से शराबबंदी, दहेज प्रथा एवं बाल विवाह जैसी कुरीतियों को जड़ से मिटाने का आह्वान किया।
कार्यक्रम के दौरान रंग दर्पण संस्था की सचिव विभा सिन्हा ने वहां मौजूद लोगों को बताया कि दहेज प्रथा एक ऐसा कोढ़ है जो दीमक की तरह समाज को खोखला करता है। दहेज लेना और देना दोनों ही अपराध है इसलिए दहेज लेने से बचें। कम उम्र में बच्चों को शादी नहीं करनी चाहिए। लड़की की उम्र 18 वर्ष एवं लड़का का उम्र 21 वर्ष होने के बाद ही शादी करना चाहिए नहीं तो उसे जेल भी जाना पड़ेगा।
आगे उन्होंने शराब पर जानकारी देते हुए बताया कि शराब पीने से शरीर को अंदर से खोखला कर देता है एवं कई तरह की बीमारियां पैदा कर देता है। इसलिए लोगों को शराब से दूर रहना चाहिए। समाज में व्याप्त कुरीतियों को त्याग करके एक सुंदर समाज का निर्माण करें।
इस मौके पर रंग दर्पण संस्था टीम के कलाकार अरविंद कुमार, टुन्ना कुमार, राहुल कुमार, सुनील यादव, टुनटुन कुमार, बीना, रूपा के अलावा सैकड़ों ग्रामीण मौजूद थे।