Breaking News

सिमुलतला : निर्वाण दिवस पर भूत पूर्व मंत्री ने किया प्रतिमा का अनावरण


गणेश कु.सिंह (सिमुलतला) :
{Edited by : Akshay kumar}
- शुक्रवार को गांधीवादी विचारक सर्वोदय नेता एवं भाई जी के उपनाम से प्रसिद्ध शिवानंद भाई की प्रथम पुण्यतिथि के अवसर पर ग्राम भर्ती के प्रांगण में प्रतिमा का अनावरण का आयोजन किया गया।  बिहार सरकार के भूत पूर्व मंत्री सह बाहुबली नेता व जे पी सेनानी नरेंद्र सिंह ने प्रतिमा का अनावरण कर माल्यार्पण किया. तत्पश्चात उपस्थित लोगों ने बारी बारी से प्रतिमा पर पुष्प अर्पित किया। हालांकि कार्यक्रम के मुख्य अतिथि के रूप में जल पुरुष श्री राजेन्द्र सिंह आने वाले थे, परंतु किसी कारणवस उनका आना संभव नही हो पाया।

माल्यार्पण के उपरांत प्राथना सभा का आयोजन किया गया, एवं स्व भाई जी के प्रिय गीत (रास्ते मे तुमको कोई रहनुमा मिल जाएगा) एवं  सर्व धर्म प्रार्थना की प्रस्तुति दी गयी। नेता जी के साथ मंच साझा कर रहे भाई जी के करीबी रहे तपेश्वर भाई जी ने भाई जी के जीवनी को विस्तृत रूप में उपस्थित लोगों को बताया. उन्होंने बताया कि 1961 से सिमुलतला क्षेत्र में जीवन खपाने वाले भाई जी को याद कर आंखे नम हो जाती है। बिनोवा भावे एवं जे पी के बताए रास्ते पर चलते हुए क्षेत्र को बहुत कुछ दिया है। 

उन्होंने अपने शब्दों में कहा कि उनकी बाकी कामों को पूरा करना ही हमारी सच्ची श्रद्धांजलि होगी। इस बीच उन्होंने एक प्रिय शेर भी बोले (इंसान जगाने आया हूं, अरमान जगाने आया हूं)
वहीं श्रद्धांजलि कार्यक्रम में सिमुलतला आवासीय विद्यालय की कुछ छात्राओं ने जितेंद्र पाठक की ताल से ताल मिलाते हुए गांधी जी का प्रिय गीत वैष्णव जन जो जेने कहिये जे, पीर पराई जाने रे की प्रस्तुति देकर उपस्थित लोगों का मन मोह लिया।

मुख्य अतिथि के रूप में पूर्व मंत्री नरेंद्र सिंह का विमलेश कुमार झा ने जोरदार स्वागत किया। अपने संबोधन में श्री सिंह ने सिमुलतला एवं ग्रामभारती के विकास के लिए उपस्थित लोगों को प्रेरित किया साथ ही बताया कि हम सिमुलतला को लहलहाता देखना चाहते हैं. हम युवाओं से आह्वान करते है कि वे विकास कार्य के प्रति समर्पित भाव से योगदान दें। भाई जी का सपना एवं आप सभी की इच्छा को पूरा करने के लिए मुझसे जो कुछ बन पड़ेगा मैं करूँगा। तीन मुखी सांप भ्रष्ट प्रशासन, भ्रष्ट पुलिस, और भ्रष्ट व्यापार जो जनमानस को प्रतिदिन डंसता है। इसलिए आप सब जात पात से ऊपर उठकर एक शख्त सरकार की नींव रखें। रचना ओर संघर्ष का सेंटर सिमुलतला को बनाएं।

इस मौके पर मुखिया जमादार सिंह, आवासीय विद्यालय के प्रिंसिपल राजीव रंजन, खुरंडा के पूर्व मुखिया बालदेव यादव, सिरदार पंडित, मंगू सिंह, राधे यादव, मुकेश यादव, राजेन्द्र मांझी, अर्जुन पंडित, भुनेश्वर यादव, सूर्य वत्स, संतोष झा, मनोज झा,नीलू, ज्योति, मीनू, अल्का सिंह, सीताराम यादव, मुकेश सिंह, विनय वर्मा सहित सैकड़ों लोग सभा मे उपस्थित थे।