Breaking News

मनोरंजन : भोजपुरी फिल्म प्यार होता है दीवाना सनम लेकर आ रहे हैं अभिनेता रोहित राज यादव


मनोरंजन (अनूप नारायण) :
अगर इंसान ठान ले कि उसे जीवन में कामयाबी हासिल करनी है तो वह एक न एक दिन उसे पा ही लेता है। यह साबित किया है सरल स्वभाव के कर्मठ अभिनेता रोहित राज यादव ने। रोहित का पटना से मुंबई तक का सफर काफी संघर्ष पूर्ण रहा है। जीवन में कड़े संघर्षो के बाद आज वो तीन भोजपुरी फिल्मों के नायक के रूप में अपनी पहचान बनाने में कामयाब हुए हैं। रोहित राज यादव बिहार के पटना के गीडा प्रखंड के गाँव बेला के मूल निवासी हैं। बचपन से ही वे भोजपुरी फिल्मों का शौकीन रहे हैं। उनका एक्टर बनने का सपना साकार हो गया है। उन्होंने वर्ष 2011 में मुम्बई आकर काफी दिनों तक जमकर संघर्ष किया। आशा-निराशा के बीच लड़ते हुए अंततः बिना गॉड फादर के ही कदम बढ़ाते रहे लेकिन हिम्मत नहीं हारी। उनके परिवार और भाई बी।एन यादव तथा मित्र सूर्यकांत निराला का उत्साहवर्धन स्वरूप बड़ा ही योगदान रहा है।

वर्ष 2013 में बतौर मेन लीड रोहित ने पहली भोजपुरी फ़िल्म ‘धूम मचइला राजाजी’ से रुपहले परदे पर धमाकेदार पदार्पण किया। जिसके निर्देशक चुनमुन पण्डित थे। सिनेतारिका गुंजन पन्त उनकी नायिका थीं, साथ में छोटू छलिया, राखी त्रिपाठी इत्यादि थे।

 उनकी बतौर हीरो दूसरी भोजपुरी फिल्म 2018 में ‘ये इश्क बड़ा बेदर्दी है’ रिलीज हुई, इसके लिए उन्होंने और भी बेहतर करने के उद्देश्य से गैप लिया था। इस फ़िल्म के निर्देशक राम यादव थे और नायिका के रूप में रानी चटर्जी और पुनः गुंजन पंत भी शामिल थीं। उनकी आने वाली तीसरी फिल्म ‘प्यार होता है दीवाना सनम’ एक लव स्टोरी,एक्शन और फैमिली ड्रामा फ़िल्म है, जिसमें फिर उनकी नायिका गुंजन पंत ही हैं। रोहित राज कहते हैं कि बड़ी मुश्किलों से मैंने यह जगह बनाई है और एक बेहतर मुकाम भी बनाने की चाहत है। हमें किसी से कोई कम्पटीशन नहीं है। यहाँ सब अपने-अपने मेहनत और भाग्य का खाते हैं। अंत में दर्शकों से एक यही गुजारिश है कि अपना प्यार हम पर सदैव बनाये रखिएगा।