Breaking News

गंगरा : बाबा कोकिलचंद धाम में वार्षिक सत्यनारायण व्रत एवं महाआरती संपन्न

गंगरा/गिद्धौर (सुशान्त सिन्हा) :
बीते सोमवार की शाम गंगरा स्थित सात सौ वर्ष प्राचीन बाबा कोकिलचंद धाम में ग्रामीणों द्वारा तृतीय वार्षिक सत्यनारायण व्रत कथा महापूजन एवं नवम् वार्षिक महाआरती का भव्य आयोजन हुआ। जिसमें गंगरा एवं आसपास के इलाके के सैंकड़ों श्रद्धालु सम्मिलित हुए। बाबा कोकिलचंद के कार्यों को आगे बढाने हेतू समिति के लोग काशी विश्वनाथ का आशीर्वाद पाने बनारस गये थे। 

जहाँ वाराणसी के प्रसिद्ध विद्वान ज्योतिषाचार्य पंडित रविकांत तिवारी से मुलाकात एवं मार्गदर्शन में  मिले हस्तलिखित पत्र को गंगरा निवासी विद्वन डॉ. लखनलाल पांडेय जी द्वारा पढकर सुनाया गया। जिसे वहां उपस्थित समस्त लोगों ने बाबा विश्वनाथ का आशीर्वाद स्वरुप आदेश के रुप में स्वीकार करते हुए बाबा कोकिलचंद कार्य को तन-मन-धन के साथ आगे बढाने की सहमती दी एवं दोनो हाथ ऊपर उठाकर जय बाबा कोकिलचंद जयघोष करते हुए शपथ लिया गया।

बिहार का इस अनोखे देवस्थल पर प्राचीन समय से ही बाबा कोकिलचंद मानव देव का पिंडी स्वरुप दर्शनीय एवं सर्वमनोकामना पूर्ति का प्रमाण है। पूर्व में यहाँ एक मिट्टी एवं फुस (पुआल)  का मंडपा था। जिसे बाबा कोकिलचंद की प्रेरणा से रामनवमी के अवसर पर 24 अप्रैल 2010 से यहाँ एक भव्य मंदिर निर्माण का कार्य शुभारंभ किया गया। 

बाबा का नवमंदिर निर्माण कार्य के लिए गाँव स्तर की एक समिति गठित की गई है जो मंदिर प्रबंधन का कार्यभार देखती है। बाबा कोकिलचंद विचार मंच के संयोजक चुन चुन कुमार के नेतृत्व में बाबा कोकिलचंद के विचारों का इलाके में प्रसार किया जा रहा है।