Breaking News

गिद्धौर : जाम के जंजाल से जूझ रही जनता, निजात दिलाने में प्रशासन नाकाम

गिद्धौर/न्यूज़ डेस्क (सुशांत सिन्हा) :
गिद्धौर के लॉर्ड मिंटो टावर चौक से होकर गुजरने वाले राष्ट्रीय राजमार्ग 333 के किनारे अतिक्रमण से हर रोज भीषण जाम लगता है. लार्ड मिंटो टावर चौक के पास ही मुख्य बाजार है. लेकिन यहाँ पार्किंग की व्यवस्था नहीं होने की वजह से वाहन चालक सड़क के किनारे ही अपनी गाड़ियाँ खड़ी कर देते हैं. यत्र-तत्र गाड़ियों को खड़ा कर दिए जाने की वजह से दूसरे वाहन चालकों को परेशानी होती है और गाड़ियों की लम्बी कतार लग जाती है. कई बार तो घंटे भर भी जाम लगा रह जाता है और सैंकड़ों छोटी-बड़ी गाड़ियां रेंगते हुए गुजरती हैं.
लॉर्ड मिंटो टावर चौक पर एनएच 333 के किनारे कई दुकानें हैं जिसकी वजह से यहाँ आने वाले वाहन चालक सड़क के किनारे ही अपनी गाड़ी खड़ी कर देते हैं. सड़क पर जाम की समस्या उत्पन्न होने की वजह से कई बार इस मामले को लेकर लड़ाई भी हो जाती है.
कई दुकानदार, ठेला चालक, ऑटो चालक, रेहड़ी वाले सड़क पर ही अतिक्रमण कर लेते हैं. जिसके चलते क्षेत्रवासियों के लिए यह जाम परेशानी का सबब बनता जा रहा है. सड़क पर हो रहे अतिक्रमण और जाम से न सिर्फ वाहनों को बल्कि पैदल चलने वाले राहगीरों को भी परेशानियों का सामना करना पड़ता है.
कई बार तो लोग ट्रेन पकड़ने के लिए भी लेट हो जाते हैं. अधिकतर परेशानी का सामने स्कूली बच्चों को करना पड़ता है. एनएच 333 पर लगने वाले इस जाम में कई बार स्कूल बस भी शामिल हो जाते हैं जिससे की इनमें सवार बच्चों की स्थिति दूभर हो जाती है.
निर्धारित टेम्पो स्टैंड नहीं होने की वजह से चालक मुख्य सड़क के किनारे ही अपने टेम्पो खड़े कर देते हैं. जिसके कारण बड़ी गाड़ियों को निकलने का रास्ता नहीं मिलता.
यूँ तो राष्ट्रीय राजमार्ग 333 के चौड़ीकरण का काम भी गया है और जाम पर काबू पाने के लिए डंटाधारी जवानों को भी ड्यूटी पर लगाया जाता है लेकिन लॉर्ड मिंटो टावर चौक के पास लगने वाले जाम की समस्या से निजात दिलवा पाने में प्रशासन भी नाकाम साबित हो रहा है. अगर छोटी गाड़ियों को बाईपास अथवा रोड नं. 2 एवं 3 से निकाला जाये तो काफी हद तक मुख्य सड़क पर लगने वाले जाम को रोका जा सकता है.