Breaking News

लछुआड़ से 9 को प्रस्थान करेंगे जैन सिद्ध-पुरुष नयवर्धनसूरीश्वर जी महाराज, दर्शन को पहुंचे भाजपा नेता



जमुई [इनपुट सहयोगी] : क्षत्रियकुंड भगवान महावीर जन्मस्थान और लछुआड़ में विगत छः महीने से करुणासागर महावीरस्वामी प्रभु के संतान आचार्यदेव श्री विजय नयवर्धनसूरीश्वर जी महाराज रहकर जन्मस्थान को विश्व प्रसिद्ध बनाने हेतु लगातार समर्पित रहे। 9 जनवरी को यहां से विहार करते हुए पारसनाथ गिरिडीह के लिए प्रस्थान से पूर्व महानसंत के दर्शन हेतु भाजपा प्रदेश कार्यसमिति सदस्य बिकास प्रसाद सिंह लछुआड़ पहुँचकर आशीर्वाद प्राप्त किया।

सिंह ने बताया कि आचार्य जी एक सन्यासी के साथ सभी सुख-सुविधा से बंचित रहकर अहिंसा की पाठ लोगो की बीच प्रवाह करते रहते हैं। इनका लछुआड़ से 9 जनवरी को प्रस्थान के बाद पहला महादेव सिमरिया में 9 बजे पूर्वाह्न सैकड़ो जनमानस में भगवान महावीर के विचारों को प्रवाह करेंगे। उसके उपरांत खैरा, शोभाखन फिर सोनो में 12 जनवरी को सैंकड़ो ग्रामीणों को निरामिष के लिए संकल्प दिलवाएंगे। भगवान महावीर प्रभु के संतान आचार्यदेव नयवर्धनसूरी जी महाराज के समक्ष भाजपा नेता बिकास प्रसाद सिंह जी को शॉल एवं माला पहनाकर बहुमान (सम्मानित) किया गया।

भाजपा नेता बिकास ने कहा कि आचार्य सुरेश्वरसूरी जी महाराज जीवन राष्ट्र को समर्पित करते हुए आज तक जहां भी विहार किये हैं पदयात्रा के माध्यम से ही वो मुम्बई से 22 सौ किलोमीटर चलकर लछुआड़ पहुचे एवं यहां से गिरिडीह होते हुए कोलकाता पैदल ही यात्रा करेंगे तथा वहां से पुनः जुलाई 2019 में क्षत्रिय कुंड जन्मस्थान वापस आएंगे।

आचार्य जी के दर्शन हेतु सिंह के साथ आरएसएस के राजकुमार सिंह उर्फ बिटटू, जिनेन्द्र सेवा समिति के उमेश केसरी, सहित अन्य शामिल थे।