Breaking News

गिद्धौर : प्रखंड वार्ड संघ का हुआ पुनर्गठन, चुने गये पंचायतों के अध्यक्ष


{gidhaur.com | न्यूज डेस्क} :-

प्रखण्ड स्थित पंच मंदिर परिसर में सोमवार को जिला वार्ड महासंघ जमुई के बैनर तले प्रखण्ड वार्ड सदस्य संघ की एक प्रखण्ड स्तरीय बैठक बेबी देवी कि अध्यक्षता में आयोजित की गई।
उक्त बैठक में प्रखण्ड के सभी पंचायतों के वार्ड सदस्यों के साथ-साथ जिले भर के कई प्रखण्डों के वार्ड संघ अध्यक्षों ने बढ़-चढ़ कर भाग लिया। बैठक में सभी पंचायतों के वार्ड सदस्यों ने संगठन मजबूती पर अपना विचार रखा जिसमें सर्वसम्मति से संघ को मजबूती हेतु  पुनर्गठन करते हुए सभी पंचायतों में नवनियुक्त पंचायत अध्यक्ष चुना गया। जिसमें गंगरा से रोहित कुमार, मौरा से नुसरत खातून, सेवा से उपमुखिया किरण देवी, रतनपुर से बवन कुमार, पूर्वी गुगुलडीह से संजय यादव, कुन्धुर से मनोज कुमार पाण्डेय, कोल्हुआ से रामानन्द सिंह, पतसंडा से उषा देवी को पंचायत अध्यक्ष के रूप में चयन किया गया। वहीं प्रखण्ड स्तर पर वार्ड सदस्य संघ के प्रखण्ड अध्यक्ष कोल्हुआ पंचायत की उपमुखिया बेबी देवी, प्रखण्ड उपाध्यक्ष सेवा पंचायत वार्ड सदस्य राघवेन्द्र सिंह, प्रखण्ड सचिव पतसण्डा पंचायत के 13 नम्बर वार्ड सदस्य डब्लू पंडित, उपसचिव अरविंद कुमार, कोषाध्यक्ष पतसंडा, उपमुखिया रूबी कुमारी, उपकोषाध्यक्ष मौरा पंचायत के पूर्व उपमुखिया गणेश यादव और प्रखण्ड संगठन मंत्री के रूप में कुन्धुर उपमुखिया संजय कुमार को चयन किया गया। वहीं रतनपुर पंचायत के 13 नम्बर वार्ड सदस्य दीपक कुमार को सोशल मिडिया प्रभारी नियुक्त किया गया। और सर्वसम्मति से पारित हुआ की पुनर्गठन की सूचना जिला अधिकारी जमुई , उपविकास  आयुक्त जमुई एवं प्रखण्ड विकास पदाधिकारी चिरंजीवी पाण्डेय को लिखित रूप से दिया जाए।

बैठक को संबोधित करते हुए सचिव डब्लू पंडित ने कहा वार्ड सदस्य सबसे निचले स्तर के प्रतिनिधि है, इनका सीधा  संवाद जनता से होता है। यह सरकार के हर महत्वकांक्षी योजनाओं को जन जन तक पहुँचाते हैं लेकिन इसके बदले में सरकार मात्र 500 रुपये भत्ता देती वह भी कई महीनों के बाद मिल पाते हैं जबकि कम से कम 5000 जरूर मिलना चाहिए साथ ही साथ वार्ड सदस्यों  को और भी सशक्त बनाना चाहिए,लेकिन प्रखण्ड में वार्ड सदस्यों को दरकिनार किया जा रहा है। प्रत्येक विद्यालय एवं आंगनबाड़ी के उक्त वार्ड के वार्ड सदस्य को पदेन अध्यक्ष बनाया गया लेकिन खाता का संचालन सचिव और प्रधानाध्यापक संयुक्त रूप से करते है। जिसके कारण प्रखण्ड के कई विद्यालय में शिक्षा समिति का गठन भी नहीं हुआ है और जहाँ हो भी गया वहाँ बिना विद्यालय शिक्षा समिति के बैठक किए बिना सचिव और प्रधानाध्यापक दोनों मिलकर अवैध निकासी कर रहे हैं इसमें वार्ड सदस्यों को पूछा तक भी नहीं जा रहा हैं। उन्होंने कहा की इसकी लिखित शिकायत संघ के माध्यम जिलाधिकारी को किया जाएगा। प्रखण्ड संगठन मंत्री सह कुन्धुर उपमुखिया संजय कुमार ने कहा की प्रधानमंत्री आवास योजना में भी वार्ड सदस्यों को पूछा तक भी नहीं जा रहा। वहीं अध्यक्ष बेबी देवी ने कहा प्रखण्ड में शौचालय का पैसा लाभुक के खाते में बहुत ही धीमी से जा रहा यह बहुत दुःख की बात है।

  इस अवसर पर खैरा वार्ड संघ सचिव लालन प्रसाद मंडल, जिला वार्ड महासंघ कोषाध्यक्ष भूपाल आर्य, सचिव डब्लू पंडित, अध्यक्ष बेबी देवी, पतसंडा से उषा देवी, उपसचिव अरविंद कुमार, प्रखण्ड कोषाध्यक्ष सह उपमुखिया रूबी कुमारी, रंजीत रंजक, वृंदा देवी, रानी देवी, मौरा से नुसरत खातून, गणेश यादव, कोकिल माँझी,  देवी, गंगरा से रोहित कुमार, बीमली देवी, वीरू माँझी, सेवा से उपमुखिया किरण देवी , राघवेंद्र सिंह, बच्ची देवी, हरिनंदन यादव, ललन पासवान, मीना देवी, दिनेश तूरी, संजय कुमार रावत, सूचित कुमार,  रतनपुर से बवन, दीपक कुमार, कुन्धुर से मनोज कुमार, संगठन मंत्री सह उपमुखिया संजय कुमार, पूर्वी गुगुलडिह से संजय यादव, शुकर सोरेन, बौना माँझी, कोल्हूआ से रामानन्द सिंह, वार्ड संघ संस्थापक मनोहर सिंह, अशोक साव, लक्ष्मी देवी, अरविंद साव जानी माँझी के अलावे दर्जन भर से अधिक लोग उपस्थित थे।