Breaking News

पटना : खसरे के टीकाकरण के बारे में दी गई जानकारी



पटना (अनूप नारायण) : बुधवार को पटना के बुद्धा कॉलोनी मे बच्चो के बीच मिजिल्स और रूबेला के टिकाकरण के बारे मे लाएंस क्लब पटलीपुत्र आस्था के कार्यक्रम के तहत चर्चित चिकित्सक डा राणा एस पी सिंह (लाएंस 322E को डिष्ट्रिक चेयरपर्शन हेल्थ एंड हैजीन) ने फ्री स्वास्थ्य जाँच कर कहा कि MR यानि 'मीजल्स रूबेला' टीकाकरण अभियान को ग्रामीण और शहरी क्षेत्रों में चलाया जा रहा है। इस अभियान के तहत पूरे देश के लगभग 9 लाख बच्चों को इसका लाभ मिलेगा। यह टीका बच्चों को खसरा और रूबेला बीमारियों से सुरक्षा प्रदान करेगा। इस एमआर वैक्सिन का कोई साइड इफेक्ट नहीं है तथा यह पूर्ण रूप से सुरक्षित है। क्या है 'मीजल्स रूबेला' (MR) MR यानि 'मीजल्स रूबेला' को देश में खसरे के नाम से जाना जाता है। खसरा और रूबेला  बच्चों में होने वाली एक खतरनाक बीमारी है।  इसके कारण बच्चों को विकलांगता और  असमय मृत्यु का खतरा बना रहता है। अगर प्रेग्नेंसी के दौरान किसी महिला को रूबेला या खसरा हो जाए, तो इसका असर उसके नवजात भ्रूण या नवजात शिशु के लिए बेहद खतरनाक साबित होता है।

 इस योजना के अंतर्गत 9 माह से लेकर 15 वर्ष से कम आयु के बच्चों का टीकाकरण किया जा रहा है। MR यानि 'मीजल्स रूबेला' टीके को आमतौर पर खसरे की बीमारी से बचाव के लिए बच्चों में लगाया जा रहा है।  कहां से करवा सकते हैं टीकाकरण इस अभियान के तहत हर जिले के स्वास्थ्य विभाग ने बच्चों के टीकाकरण के लिए सरकारी, गैर सरकारी, केन्द्रीय विद्यालय, नवोदय विद्यालय, आश्रम-छात्रावास, मदरसा तथा आवासीय स्कूल एवं अन्य स्कूलों के साथ ही आंगनबाड़ी केन्द्रों भी इस टीकाकरण को लगवाया जा सकता है।