Breaking News

अलीगंज : एक ही कमरे में चल रहा मनरेगा ऑफिस, वर्षों से अर्धनिर्मित भवन में उगी झाडियां

[अलीगंज | चन्द्रशेखर सिंह]
सरकार ने मजदूरों को सौ दिनों का रोजगार मुहैया  कराने व विकास की रफ्तार तेज करने के उद्देश्य से प्रदेश भर में सभी प्रखंडो में मनरेगा कार्यालय से प्रखंड के विभिन्न गांव से पलायन कर रहे मजदूरों को सौ दिन का रोजगार मुहैया कराई है। इसके इतर प्रखंड के महात्मा गांधी रोजगार गारंटी योजना कार्यालय प्रखंड मुख्यालय के एक कमरे में संचालित किया जा रहा है। जिससे कार्यालय में एक कमरे में पीओ एवं लेखापाल व विभिन्न पंचायतो में कार्यरत रोजगार को काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ता है।
प्रखंड कार्यक्रम पदाधिकारी कुमारी सरस्वती ने बताया कि मनरेगा भवन के लिए 31 लाख रूपये आवंटित किया गया थे लेकिन कार्य एजेंसी के तबादला होने कारण वर्ष 2012 से ही यह अधुरा पड़ा है। इसके लिए जिला के संबंधित पदाधिकारियों को बताया जाएगा



 पांच वर्षों से अधूरा पड़ा है 31 लाख का नया मनरेगा कार्यालय
प्रखंड कार्यालय के सामने ही मनरेगा कार्यालय के नया भवन  वर्ष 2010 में बनना शुरू हुआ, लेकिन पीलिंथ तक बनने के बाद दस लाख रूपये की निकासी भी हुई लेकिन आज तक अधुरा पड़ा है, और उसमें झाडियां व पेड़ पौधे उग गये हैं। प्रखंड के तेरह पंचायत के रोजगार सेवक व मनरेगा अधिकारी व लेखापाल सभी कर्मी भवन के कमी के कारण एक कमरे में सारे काम करने को विवश हैं।[।