Breaking News

गिद्धौर : डिजिटल माध्यम से यहाँ होता है रोगियों का इलाज

{गिद्धौर | अभिषेक कुमार झा}:
डिजिटल इंडिया कार्यक्रम को बढ़ावा देने तथा आयुष चिकित्सा को सुदृढ़ करने के लिए अब केंद्र सरकार हेल्थ होमियो स्कीम के तहत 999 रुपये में पूरा साल सेहत का ख्याल रखेगी।
जी हां, गिद्धौर स्थित सहज वसुधा केंद्र में उपलब्ध इस डिजिटल सेवा के द्वारा पंजीकृत रोगियों को साल में छह बार देश के विशेषज्ञ होमियो चिकित्सक वीडियो कांफ्रेंसिग के माध्यम से अपनी सलाह देंगे। इसी राशि से रोगियों को दवाइयां भी घर बैठे ही मिलेंगी। यदि छह बार से अधिक चिकित्सकों से सलाह लेने की जरूरत पड़ी तो उन्हें प्रति सलाह 50 रुपये अलग से देने होंगे। इसके अलावे पंजीकृत व्यक्ति के परिवार के लिए मुफ्त प्राथमिक स्वास्थ्य किट भी दी जाएगी।

» क्या है हेल्थ होमियो स्कीम «

हेल्थ होमियो स्कीम का उद्देश्य ग्रामीण क्षेत्रों में रहने वाले लोगों को सुलभ चिकित्सा सेवा उपलब्ध कराना है।  गरीब व बीमारी से ग्रस्त आम नागरिक जो कि मंहगे इलाज के अभाव में अपनी कीमती जान को जोखिम में डालकर झोलाछाप के चक्कर में अपनी गाढ़ी कमाई बर्बाद करते हैं, इस हेल्थ होमियो स्कीम के माध्यम से विशेषज्ञ चिकित्सकों के माध्यम से सस्ता इलाज करा सकते हैं।



» यहां कराएं रजिस्ट्रेशन «

हेल्थ होमियो के लिए अपने नजदीकी सहज वसुधा केन्द्र अथवा कॉमन सर्विस सेंटर पर जाकर (10:00am - 5:00pm) रजिस्ट्रेशन करवाया जा सकता है। गिद्धौर एवं इसके आसपास क्षेत्र के रहने वाले लोग इस सुविधा का लाभ सहज वसुधा केन्द्र गिद्धौर से उठा सकते हैं।
पंजियन शुल्क जमा होने के पश्चात रेजिस्ट्रेशन नंबर उपलब्ध होगा। इसी नंबर के आधार पर डाॅक्टर्स भी उपलब्ध होंगे। जिसके प्रिस्क्रप्सन से डाक द्वारा भेजकर दवा भी निवास स्थान पर उपलब्ध करा दिया जाएगा।

▶ ये है सुविधाएँ

मात्र 199 रूपये में 2 बार विडियो काॅन्फ्रेन्स द्वारा डाॅक्टर से परामर्श और साथ ही एक महीने का होमियोपैथिक दवा मुफ्त।
499 रूपये में 5 बार वीडियो काॅन्फ्रेसिंग द्वारा डाॅक्टर से परामर्श और साथ ही तीन महीने की दवा मुफ्त साथ ही दो महीने की दवा कुरियर के माध्यम से जरूरतमंद रोगियों तक उपलब्ध कराई जाएगी।




▶ गिद्धौर-झाझा मुख्य मार्ग स्थित सहज वसुधा केन्द्र में चल रहे हेल्थ होमियो के अंतर्गत सभी बीमारियों का इलाज डिजिटल तौर पर कराया जा सकता है :-

▶ व्यस्क व्यक्तियों के लिए

1).  सर दर्द/माइग्रेन
2).  दमा/सांस फूलना/ फेफड़े का रोग
3).  जोड़ों का दर्द
4).  गठिया पथरी
5).  बवासीर व अन्य दर्द

▶ बुजुर्गों के लिए

1). त्वचा रोग
2). अनिन्द्रा
3). पेट की तकलीफें
4). कमजोरी
▶ बच्चों के लिए

1). लंबे समय से सर्दी
2).  मिट्टी की आदत
3).  भूख ना लगना
4).  नींद में पेशाब करना


▶ महिलाओं के लिए

1).  स्तन में गांठ
2). मासिक संबंधित परेशानियां
3).  रसौली
4).थायराइड संबंधित परेशानियां
के अलावे अन्य सभी प्रकार की बिमारियों का इलाज किया जाता है।

गिद्धौर स्थित सहज वसुधा केन्द्र के भीएलई दिलीप कुमार दास ने हेल्थ होमियो के संदर्भ में विस्तृत रूप से बताया कि इस योजना के डी-बी.ई.(डिजिटल डॉक्टर/बैंकिंग/एजुकेशन) के माध्यम से गिद्धौर जैसे इलाके में आर्थिक आभाव से जूझ रहे रोगियों को काफी लाभ पहुँचेगा साथ ही गिद्धौर प्रखंड अंतर्गत आने वाले लगभग 20 गांवों की तस्वीर में भी बदलाव आएगा। इस केंद्र के माध्यम से इच्छा युवाओं डिजिटल ट्रेनिंग भी दी जा रही है। खासकर इस हेल्थ होमियो योजना से गिद्धौर के सुदूर इलाके में रहकर रहे ग्रामीणों को अपने घर के पास ही सारी सुविधाएं मिलेंगी।