Breaking News

अलीगंज : पुत्र प्राप्ति को प्रसिद्ध है यहाँ की माँ दुर्गा, पहाड़ी गुफा है मुख्य आकर्षण

[अलीगंज | चन्द्रशेखर सिंह]
अलीगंज अंदर बाजार स्थित माँ दुर्गा की मंदिर पुत्र प्राप्ति के लिए प्रसिद्ध हैं। वर्ष 1955 से ही यहां माँ दुर्गा की प्रतिमा स्थापित की जा रही है। बताया जाता है कि यमुना गुरू जी के भाई सोमर साह को कोई संतान नही था, उन्होंने माता से पुत्र प्राप्ति की इच्छा रखी और उनकी मनोकामनापूर्ण पूर्ण हुई, तब उन्होंने माँ की प्रतिमा का निर्माण पीपल वृक्ष के नीचे किया था और एक फुस की झोपड़ी बनाकर लगातार पांच वर्षों तक वे झोपड़ीनुमा में ही माता की प्रतिमा बनाकर पुजा अर्चना करते रहे। 
 बताया जाता है कि पुत्र प्राप्ति के बाद सोमर साह ने दो बीघा जमीन मंदिर बनाने के लिए दान में भी दिए। उसके बाद से अलीगंज बाजारवासी द्वारा एक कमिटी बनाकर लगातार दुर्गा पुजा का सफल आयोजन किया जा रहा है। इस बार मंदिर में प्रवेश के पहले पहाड़ी गुफा बनाया जा रहा है, जो मेले में आकर्षक का केन्द्र होगा। गुफा और प्रतिमा निर्माण के लिए दरभंगा और मुंगेर के कलाकारों को लाया गया है। पूजा समिति के अध्यक्ष मनोज मेहता ने बताया कि इस बार मंदिर के निकट भव्य गुफा बनाया गया है, जिसमें भगवान शंकर की भव्य प्रतिमा होगी और गुफा में झरने से पानी गिरता रहेगा।
इस बार सुरक्षा की दृष्टि से मेला परिसर में 12 सीसीटीवी कैमरे लगाये जाएंगे और 100 कमिटी सदस्य हैं जो मेले के दौरान 24 घंटा निगरानी में तैनात रहेंगे। इस मौके पर स्कूली छात्र-छात्राओं द्वारा सांस्कृतिक कार्यक्रम का भी आयोजन किया जाएगा और उसे पुजा समिति द्वारा सम्मानित किया जाएगा। पूजा समिति अध्यक्ष श्री मेहता ने बताया कि मूर्त्ति निर्माण से लेकर गुफा व पुजा तथा साज सज्जा मिलाकर इस बार लगभग दस लाख रुपए खर्च होने का अनुमान है। इस बार मेले परिसफ भव्य गुफा का निर्माण किया गया है, जिसकी खुबसुरती देखते ही बनेगी।