Breaking News

पटना : सेल्फ डिफेंस ट्रेनिंग से सशक्त हुई बिहार की बेटियां


पटना (अनूप नारायण) : सेल्फ डिफेंस के लिए इंसान को खुद को एक्टीव रखना होगा। लडकियों को अपने-आप को कभी भी कमजोर नहीं समझना चाहिए। हमारे देष में शुरु से ही नारी की पुजा होती रही है। ये सारी बातें रविवार को जनहित में उत्कृष्ट कार्य करने वाली बिहार की अग्रणी संस्थान आजाद हिन्द सेवा संस्थान के तत्वावधान में आयोजित सेल्फ डिफेंस ट्रेनिंग कार्यक्रम सह सम्मान समारोह के अवसर पर उपस्थित छात्राओं को संबोधित करते हुए इंटरनेशनल गोल्ड मेडलिस्ट गुजरात स्टेट चीफ इंस्ट्रक्टर, वर्ल्ड रिकॉर्ड होल्डर योगाचार्य, मोटिवेशनल स्पीकर एवं प्रेसिडेंट एंड फाउंडर मिशन परित्राण चाणक्य विद्यापीठ के मास्टर विवेक मिश्रा ने कही। इस अवसर पर मास्टर विवेक मिश्रा द्वारा लड़कियों को उच्य शैली का प्रशिक्षण दिया गया जिसमे उन्हें बहादुरी से लड़ना, विपरीत परिस्थितियों में मजबूती से खड़े रहना, दूसरों की मदद करना, आत्मा रक्षा करना आदि सिखाया गया। इस प्रशिक्षण कार्यक्रम के तहत मास्टर विवेक मिश्रा ने लरकियों को अनेक प्रकार के सेल्फ डिफेंस से रूबरू कराया। उन्होंने कहा कि इस कार्यक्रम का उद्देश्य लड़कियों को प्रशिक्षण देकर उन्हें आत्मनिर्भर एवं बहादुर बनाना है ताकि वो हर परिस्थितियों में बुराइयों से लड़ सकें।


इसके पूर्व कार्यक्रम का उद्यघाटन संस्थान के निदेशक धरम सिंह व इंटरनेशनल गोल्ड मेडलिस्ट गुजरात स्टेट चीफ इंस्ट्रक्टर, वर्ल्ड रिकॉर्ड होल्डर योगाचार्य, मोटिवेशनल स्पीकर एवं प्रेसिडेंट एंड फाउंडर मिशन परित्राण चाणक्य विद्यापीठ के मास्टर विवेक मिश्रा के द्वारा संयुक्त रूप से दीप प्रज्ज्वलित कर किया गया।


वहीं अपने संबोधन में संस्थान के निदेशक धरम सिंह ने बताया कि आज इस कार्यक्रम में शहीदों के परिवार, सेवा निवृत सैनिक, वर्तमान सैनिक, शिक्षा, चिकित्सा एवं खेल के क्षेत्र में महत्वपूर्ण योगदान देने वाले लोगों को सम्मानित किया गया है। उन्होंने कहा कि इस संस्थान का उद्देश्य राष्ट्रीय एकता एवं भाईचारा को मजबूती प्रदान करना, साक्षरता को बढ़ावा देना एवम गरीबों - निःशक्तों की मदद करना है। उन्होंने कहा कि हम भारत को अपराध रहित, शिक्षित, चिकित्सीय सुविधा से परिपूर्ण एवम विकसित समाज के रूपः में देखना चाहते है