Breaking News

गिद्धौर : शिक्षकों ने सेवानिवृत्त B.E.O. को दी विदाई, छलक पड़े आंसू

[न्यूज डेस्क | दयानन्द साव / अभिषेक कुमार झा]
   सोमवार को प्रखंड संसाधन केंद्र गिद्धौर में प्रखंड के सेवानिवृत्त प्रखंड शिक्षा पदाधिकारी श्री कौशलेंद्र कुमार का विदाई सह सम्मान समारोह प्रखंड के सभी शिक्षकों के द्वारा आयोजित किया गया जिसकी अध्यक्षता पूर्व बी.आर.पी.एवं मध्य विद्यालय धोबघट के प्रधानाचार्य श्री संजय मिश्रा ने किया।

आगत अतिथियों के सम्मान में कस्तूरबा आवासीय विद्यालय गिद्धौर तथा कन्या मध्य विद्यालय गिद्धौर की छात्राओं के द्वारा स्वागत गान प्रस्तुत कर किया गया। मौके पर अतिथियों को फूल माला, बुके तथा अंगवस्त्र देकर सम्मानित भी किया गया। प्रधानाचार्य श्री अमरेंद्र प्रसाद गुप्ता ने माननीय पदाधिकारी महोदय के सम्मान में स्वरचित सम्मान पत्र पढ़ा। साथ ही श्रीमान के स्वस्थ एवं दीर्घायु जीवन के लिये ईश्वर से प्रार्थना की।


विदाई समारोह को सम्बोधित करते हुए शिशक श्री दिनेश रजक ने यह कहा कि माननीय बी.ई.ओ. साहब ने लगभग तीन वर्षों तक गिद्धौर प्रखंड में अपनी सेवा दी है। अपने सेवाकाल के दौरान इनका व्यवहार शिक्षकों के प्रति काफी सद्भभावपूर्ण एवम सहयोगात्मक रहा। इन्होंने हम शिक्षकों के बीच कभी पदाधिकारियों वाली हैकड़ी नहीं दिखाई वरन सदैव हम शिक्षकों के अभिभावक एवं मार्गदर्शक की भूमिका में रहे जिससे हम सभी शिक्षक भी इनके हर दिशानिर्देश के पालन के लिये सदैव तत्पर रहते थे। आज हमारे बीच से एक पदाधिकारी नहीं बल्कि हमारे अभिभावक हम शिक्षकों को छोड़कर जा रहे हैं। समारोह को सम्बोधित करते हुए शिक्षक श्री आशीष कुमार ने कहा कि जिस प्रकार आदरणीय बी.ई.ओ. श्री कौशलेंद्र कुमार ने हम शिक्षकों के बीच अभिभावक के रुप में छाप छोड़ा है हम आशा करते हैं कि अगले बी.ई.ओ. के रुप में प्रभार ग्रहण करने वाले झाझा बी.ई.ओ. श्री श्यामसुंदर प्रसाद से भी हम शिक्षकों को अपेक्षित सहयोग मिलेगा।


अपनी विदाई पर शिक्षकों को सम्बोधित करते हुए माननीय पदाधिकारी महोदय की आँखें छलक पड़ी। अपने उद्गार व्यक्त करते हुए उन्होंने कहा कि वैसे तो प्रखंड शिक्षा पदाधिकारी के रूप में मैंने बिहार के कई जिलों में सेवा दिया पर जो सम्मान मुझे गिद्धौर में मिला वो हमेशा मेरे दिल में रहेगा। 

दुर्गा पूजा की खरीददारी सस्ते में >> क्लिक करें

    अपने अध्यक्षीय सम्बोधन में म.वि.धोवघट के प्रधानाध्यापक श्री संजय मिश्रा ने कहा कि सेवानिवृत्ति सेवाकाल का अंतिम चरण होता है जो हर सेवारत कर्मियों के जीवन में आता है। हम ईश्वर से यह प्रार्थना करते हैं कि आप जहाँ भी रहें स्वस्थ एवं सुखी रहें।
    इस अवसर पर गिद्धौर प्रखंड विकास पदाधिकारी, अंचलाधिकारी, गिद्धौर ,जमुई तथा लक्ष्मीपुर के बी.आर.पी.,सी.आर.सी.सी. तथा प्रखंड के सभी शिशक-शिक्षिकाएं उपस्थित थे।