Breaking News

सिमुलतला : नाली के आभाव में सड़क पर बहता है पानी, निष्क्रिय हैं जनप्रतिनिधि

[सिमुलतला  | गणेश कुमार सिंह]

एक तरफ जहां सूबे में सरकार की सात निश्चय योजना के तहत गली एवं नाली का काम प्राथमिकता से किया जा रहा है, वहीं इस क्षेत्र के टेलवा बाजार में नाला नही रहने के कारण यहां के घरो का पानी सड़क पर बहता है। लिहाजा,  इस बाजार में आने जाने वाले लोगों के साथ साथ स्थानीय लोगों को भी भारी कठिनाईयों का सामना करना पड़ता है ।
                                                          बताते चलें,  बिहार एवं झारखंड की सीमा के निकट स्थित टेलवा बाजार व्यवसाय के मामले में खुद एक विशिष्ट पहचान है। एक छोटी सी परिधि में बसे इस बाजार से बांका एवं जमुई जिले के लगभग सौ गांवों के लोग यहां से अपनी आवश्यकताओं की पूर्ति करते है, जिससे सरकारी राजस्व को भी प्रति माह लाखों की कमाई होती है। इसके बावजूद यहां वर्षों से  मूलभूत सुविधाओं का घोर किल्लत है।
gidhaur.com के साथ हुई बातचीत में टेलवा बाजार निवासी कपड़ा व्यवसायी घनश्याम वर्णवाल, आधार कार्ड ऑनलाइन केंद्र संचालक प्रवीण वर्णवाल, किराना दुकानदार राजकुमार लाल, मेकेनिक जीवन विश्वकर्मा, लकड़ी व्यवसायी जय कुमार लाल आदि लोगों ने बताया कि मूलभूत सुविधाओं की विकास के मामले में वर्षों से विभागीय उपेक्षाओं का दंश झेल रहा है। टेलवा बाजार, वर्तमान में सिर्फ नाली के आभाव में बाजार की सड़क ने ही नाला का रूप धारण कर लिया है। खासकर बरसात के दिनों में तो परेशानी और भी बढ़ जाती है। विभागीय अधिकारियों से कई दफा हमलोगों ने नाला निर्माण का मांग भी किया लेकिन किसी का ध्यान इस ओर आकृष्ट नही हुआ. अब तो समझ मे नहीं आता है कि आखिर कब टेलवा के प्रति अधिकारियों एवं जन प्रतिनिधियों का नींद खुलेगी।

» क्या कहते हैं मुखिया

उक्त संदर्भ में अपनी प्रतिक्रिया जाहिर करते हुए ग्राम पंचायत राज टेलवा बाजार की मुखिया इन्दु भारती ने कहा कि टेलवा बाजार के लोगो ने सड़क से सटाकर अपना व्यवसायिक प्रतिष्ठानों का निर्माण किया है जिसके कारण नाला निर्माण के लिए जगह की कमी हो जाती है यदि यहां के लोग एकजुट होकर सहयोग करें तो अविलम्ब यहां नाले का निर्माण मैं कराउंगी।