Breaking News

गंगरा : बाल श्रमिक विद्यालयों में याद किए गए डाॅ. राधाकृष्णन, मना शिक्षक दिवस

[न्यूज डेस्क | अभिषेक कुमार झा]

महान दार्शनिक व देश के आदर्श शिक्षक डॉ. सर्वपल्ली राधाकृष्णन बुधवार को श्रद्धापूर्वक याद किये गये। वहीं इस मौके पर बाल श्रमिक विशेष विद्यालय तारडीह, गंगरा के वरीय शिक्षक रंजन कुमार एवं भीमराज के द्वारा विद्यालय में शिक्षक दिवस का आयोजन किया गया।  इस कार्यक्रम की शुरुआत  शिक्षक रंजन कुमार ने पूर्व राष्ट्रपति डॉ एस राधाकृष्णन के तैल्य चित्र पर पुष्पांजलि अर्पित कर कार्यक्रम की शुरुआत की। इस मौके पर उन्होंने कहा कि शिक्षक देश के निर्माता हैं और बच्चे देश का भविष्य। सफलता की पहली सीढी अनुशासन होती है इसलिए बच्चों को अनुशासित होकर जीवन में बढ़ना चाहिए। वहीं शिक्षक भीमराज ने पूर्व राष्ट्रपति डाॅ. एस. राधाकृष्णन के तैल्य चित्र पर पुष्प अर्पित करके उन्हें श्रद्धांजलि देते हुए बच्चे के संबोधन में कहा कि हमारे देश में बहुत पहले से ही गुरु की परंपरा चली आ रही है। चाहे गुरु शुक्राचार्य हो, चाहे गुरु बृहस्पति हो, गुरु द्रोणाचार्य हो, चाहे चाणक्य,
गुरु का महत्व सब ने सिद्ध किया है।
गुरु की महत्वता पर प्रकाश डालते हुए शिक्षक भीमराज ने कहा कि  भारत के पूर्व राष्ट्रपति डॉ. एस. राधाकृष्णन के आदर्शों पर चलना ही उनका जन्मदिन मनाना है।
इस मौके पर उन्होंने शिक्षकों एवं छात्र छात्राओं को भी अपनी शुभकामनाएं दी। वहीं इस अवसर पर सहायक रोहित मांझी, सेविका उषा देवी एवं आशा देवी सहित विद्यालय के छात्र-छात्राएं मौजूद थे।