Breaking News

सोशल मीडिया पर रखी जायेगी कड़ी नजर, आपत्तिजनक पोस्ट पर होगी कार्रवाई : डीएम

 

जमुई (मो. अंजुम आलम) | [Edited by- सुशान्त] :

मोहर्रम पर्व आने में अभी दस दिन शेष हैं, बावजूद इसके जिला प्रशासन पूरी सतर्कता बरत रहा है। जिला प्रशासन त्यौहार के दौरान किसी प्रकार का चूक नहीं चाहती। इसके लिए प्रशासन द्वारा मुहर्रम पर्व शांतिपूर्ण तरीके से मनाने को लेकर कवायद शुरू कर दी गई है। शुक्रवार को युवा जिलाधिकारी धर्मेंद्र कुमार ने सभी अधिकारियों के साथ बैठक करते हुए इस पर्व को लेकर कई विशेष दिशा निर्देश जारी किए हैं।

जिले के सभी थानाध्यक्षों को निर्देश जारी किया गया है कि वे पांच-पांच वीडियो कैमरे का इंतजाम करेंगे और संवेदनशील स्थानों से गुजरने वाले जुलूसों की वीडियोग्राफी करवाएंगे। इसके अलावा उन सभी चौक-चौराहों पर जहां से मुहर्रम का ताजिया जुलूस गुजरेगा वहां सीसीटीवी कैमरा लगाए जाने की बात कही गई।

इस संबंध में जमुई थानाध्यक्ष संजय विश्वास ने कहा कि जमुई के महाराजगंज से महिसौड़ी जाने वाली सड़क संवेदनशील है। इस मार्ग से जुलूस को जाने की इजाजत न दी जाए ताकि जुलूस में शांति व्यवस्था बहाल रखी जा सके। जिसपर जिलाधिकारी महोदय ने कहा कि 14 सितंबर को पदाधिकारियों के साथ बैठकर गहन विचार विमर्श के बाद ही फाईनल रूट-चार्ट बनाया जाएगा जहां से जुलूस निकलेगी। इन सब के साथ ही उन्होंने कहा कि मुहर्रम के जुलूस वाले रास्तों का निरीक्षण कर रूट मैप तैयार करने से पहले वहां जाकर जायजा लें और स्थानीय लोगों से इस संबंध में जानकारी भी प्राप्त करें ताकि बेहतर रूट-चार्ट तैयार किया जा सके।

इन सब के अलावा डीएम धर्मेन्द्र कुमार ने सोशल मीडिया पर कड़ी नजर रखने और आपत्तिजनक पोस्ट पर त्वरित कार्रवाई करने के निर्देश दिए हैं। एसडीओ लखिन्द्र पासवान ने बताया कि धारा 107 के लिए कुल 950 से अधिक व्यक्तियों को चिन्हित कर लिया गया है जिनपर कार्रवाई की जाएगी। जहां-जहां पूर्व में अप्रिय घटना घटित हो चुकी है वहां के गतिविधियों पर निगरानी रखने की भी बात कही गई। मौके पर जिला के सभी थानाध्यक्ष व सभी प्रखंडों के बीडीओ मौजूद थे।