Breaking News

पटना सहित राज्य की दो लोकसभा सीटों पर चुनाव लड़ेगी आम आदमी पार्टी!


पटना (अनूप नारायण) : राज्य में एनडीए एवं महागठबंधन की सीट शेयरिंग के खबरों के बीच आम आदमी पार्टी द्वारा भी दो सीटों पर प्रत्याशी उतारने की चर्चा है।

खबरों के अनुसार पार्टी राज्य में भाजपा की जीती हुई कुछ सीटों पर अपना उम्मीदवार खड़ा करेगी।

उक्त संदर्भों में पार्टी के युवा नेता धनंजय कुमार सिन्हा ने कहा कि अभी राज्य में लोकसभा चुनाव लड़ने या सीटों की संख्या जैसे विषयों पर बिहार प्रभारी एवं सांसद संजय सिंह ने कोई मत नहीं दिया है और न ही पार्टी की केन्द्रीय कमिटी द्वारा ऐसा कोई संदेश मिला है।

किन्तु पार्टी के कार्यकर्ता राज्य में कुछ सीटों पर लोकसभा चुनाव लड़ने का मन बनाये हुये हैं। आगामी लोकसभा चुनाव को लेकर देशभर में पार्टी का रुख यही है कि सीटें जीतने के लिये चुनाव लड़े जाएँ, महज नाम दर्ज कराने के लिये नहीं।

सिन्हा ने कहा कि जिन-जिन सीटों पर जीत की उम्मीद दिखेगी, वहाँ-वहाँ प्रत्याशी उतारने पर पार्टी विचार कर सकती है।

सीटों की संख्या पर उन्होंने कहा कि यह कार्यकर्ताओं के अनुरोध एवं जमीनी हकीकत का पार्टी पर्यवेक्षकों द्वारा आकलन पर निर्भर करेगा, किन्तु यह तय है कि पार्टी राज्य की सभी सीटों पर चुनाव लड़ने नहीं जा रही। वास्तविक आकलन एवं निर्णय में अभी कुछ माह समय लग सकता है।

राजद के साथ गठबंधन के प्रश्न पर उन्होंने इनकार करते हुये कहा कि ऐसा कोई भी संकेत राष्ट्रीय नेताओं द्वारा किसी भी अवसर पर कार्यकर्ताओं के बीच नहीं दिया गया। उन्होंने कहा कि सामान्य व्यवहारवश उनकी पार्टी के नेताओं से तेजस्वी यादव की बात-मुलाकातों को लेकर ऐसी बातें उठती हैं।

कई बार भाजपा या सरकार द्वारा तेजस्वी पर किये गये गलत प्रहारों पर भी पार्टी के कार्यकर्ताओं-नेताओं ने आपत्ति जताई है, इसलिये भी इस प्रकार के आकलन किये जा रहे हैं। किंतु हकीकत यही है कि चुनावी तालमेल या गठजोड़ से इन सब बातों का कोई लेना-देना नहीं है। पार्टी के नेता एवं कार्यकर्ता समाज के प्रति अपने दायित्वबोध से अवगत हैं। कहीं भी किसी के साथ कुछ गलत होता है तो उस गलत के खिलाफ बोलना हमसब का कर्तव्य है। इसमें राजद के साथ गठबंधन की कहीं कोई बात नहीं।

उन्होंने कहा कि पार्टी राज्य में भले ही कम सीटों पर चुनाव लड़े, पर बिना किसी गठबंधन के अकेले चुनाव लड़ेगी। अन्य सीटों पर पार्टी के नेता एवं कार्यकर्ता एनडीए के प्रत्याशियों के खिलाफ प्रचार करेंगे एवं उन्हें हराने का काम करेंगे।