Breaking News

बांका : शहादत दिवस के रूप में मनाई गई कामरेड वासुदेव यादव की पुण्यतिथि


धोरैया/बांका (रूपेश कुमार राजा) : हर साल की भांति इस साल भी सोनिया देवी मिश्री यादव महाविद्यालय धोरैया में कामरेड वासुदेव यादव की 28वीं पुण्यतिथि शहादत दिवस के रुप में मनाई गई। भाकपा कार्यकर्ताओं द्वारा आयोजित इस कार्यक्रम में भारी संख्या में आम जन भी शरीक हुए। पूरा कालेज परिसर कामरेड वासुदेव यादव अमर रहे, लाल सलाम के नारों से गूंज उठा।


जिले के विभिन्न प्रखंड से पार्टी कार्यकर्ता,व प्रखंड क्षेत्र के विभिन्न गांवों से पार्टी कार्यकर्ता, जिप सदस्य सह अंचल मंत्री गिरिधारी राय के नेतृत्व में दर्जनों कार्यकर्ताओं ने मालाहाट परिसर धोरैया से प्रभात फेरी निकालते हुए महाविद्यालय पहुंचे। महाविद्यालय में सर्वप्रथम शोकसभा में स्व. यादव को श्रद्धांजलि दी गयी।पूर्व विधान पार्षद सह भाकपा नेता संजय कुमार, प्राचार्य डॉ. अजय कुमार यादव, भाकपा जिला मंत्री मुनीलाल पासवान, महेश्वरी साह, बेलहर से आनंदी यादव, अशोक यादव, बाराहाट लखन सिंह, बांका कामरेड संतलाल, ब्रजेश सिंह, अंचल मंत्री सरयू दास, बौसी शंकर यादव, कुलदीप मण्डल, रजौन से सुरेश सिंह, लड्डू यादव सहित काफी संख्या में लोगों ने उनकी प्रतिमा पर पुष्पांजलि करते हुए उनके पदचिन्हों पर चलने का संकल्प लिया।


कामरेड स्व. यादव के पुत्र सह पूर्व विधान पार्षद संजय कुमार ने कहा कि उनके पिताजी का एक ही सपना था कि गरीब, मजदूर, किसान सहित आम लोग खुशहाल हों। इसी उद्देश्य से उन्होंने सामंती व्यवस्था के विरद्ध संघर्ष शुरु किया था। क्षेत्र में शिक्षा का लौ जलाने के उद्देश्य उनके पिता के मन में धोरैया जैसे पिछड़े जगह को शिक्षित करने का विचार आया जिस पर उन्होंने 17 एकड़ भूमि का दान देकर अपने माता पिता के नाम पर महाविद्यालय का निर्माण 1980 में कराया। जिससे कि इस इलाके के लोग शिक्षित बन सके। वहीं सरकार से गैर मजरुआ खास जमीन गरीबों को दिलाया। उन्होंने कहा कि उनका सपना समाजवाद की स्थापना था। अब उनके सपने को पूरा करना पार्टी कार्यकर्ताओं का दायित्व है। सामाजिक न्याय, शोषित एवं दलित के उत्थान के लिए जो लड़ाई छेड़ी गयी थी, उनको पूरा किया जायेगा। किसान मजदूर के शोषण के खिलाफ पार्टी का आंदोलन जारी रहेगा। पूर्व मुखिया उमाकांत दर्वे, भूमेश्वर यादव,  मृत्युंजय सिंह, मुनीलाल यादव, महेश्वर राय, गौतम सिंह, नारायण यादव, मु. हाफीज उद्दीन, गजेन्द्र शर्मा, मु. इकबाल, सोती यादव, रंजन शर्मा सहित काफी संख्या में लोग उपस्थित थे।