Breaking News

बांका : बासुकीनाथ के लिए रवाना कांवरियों का जत्था पहुँचा धोरैया


धोरैया/बांका (रमन सिंह) : उत्तरवाहिनी तट कहलगांव से जल भरकर पड़ाव संघ के बैनर तले बासुकीनाथ के लिए रवाना कांवरियों का जत्था गुरुवार की संध्या धोरैया प्रखंड परिसर पहुंचा। कांवरियों को रास्ते में जगह जगह शिवभक्तों द्वारा सेवा प्रदान किया गया। धोरैया-सन्हौला मार्ग होकर 108वीं कांवर यात्रा में लगभग दो हजार कांवरियों के जत्थे की सेवा बम बासुकी सेवा समिति द्वारा की गई।

उत्तरवाहिनी गंगा कहलगांव से गंगा जल भरकर पड़ाव संघ की ओर से कांवरियों की टोली तकरीबन सौ वर्षों से इस मार्ग से होते हुए बासुकीनाथ के लिए प्रस्थान करते हैं। गुरुवार को आए जत्थे में कांवरियों के साथ-साथ मनोरंजन हेतु चल रहे डीजे पर बाबा के गीतों को सुनकर बम झूमते नाचते बोल बम की जयकार लगाते चल रहे थे। वहीं छोटे-छोटे बम भी अपने पीठ पर गंगा जल लिये बाबा बासुकीनाथ के दर्शन करने के लिए जा रहे थे।

धोरैया प्रखंड मुख्यालय में कांवरियों के रात्रि विश्राम को लेकर बीडीओ अभिनव भारती एवं पंचायत के मुखिया मनोज कुमार यादव व स्थानीय ग्रामीण युवाओं के द्वारा कांवर रखने एवं सोने हेतु व्यवस्था की गई है। घसिया पंचायत के मुखिया के सौजन्य से बीस सूत्री कार्यालय के सामने मुफ्त चाय वितरण सेवा शिविर लगाया गया है। इस शिविर में पैक्स अध्यक्ष मुकेश कुमार साह, अमित कुमार आदि सहयोग कर रहे हैं।

प्रखंड के स्वच्छाग्रही की टीम मनीष कुमार सिंह, सुधीर कुमार, नितेश कुमार, इमरान फरहत, वीरप्रकाश, हिमांशु, सौरभ, मनीष अन्य प्रखंड समन्वयक स्वच्छ भारत मदन मोहन सिंह के नेतृत्व में काँवरियों का सहयोग किया जा रहा है।

थानाध्यक्ष राजेश कुमार के निर्देश पर स्थानीय पुलिस प्रशासन की ओर से भी कांवरियों को कोई कठिनाई ना हो इसके लिए पेट्रोलिंग व्यवस्था बढ़ा दी गयी है। जत्थे में शामिल कई कांवरियों ने बताया कि सावन मास के द्वितीय सोमवारी को फौजदारी बाबा बासुकीनाथ पर जलाभिषेक करेंगे।

कहलगाँव से आये काँवरिया दिलीप कुमार, मनीष कुमार, गौरव कुमार ने कुरमा गांव में लगाये गये संत सेवा समिति शिविर की प्रसंशा करते हुए कहा कि थके कांवरियों को शिविर के जरिए थोड़ी राहत मिलती है। शिविर में काँवरिया के लिए लस्सी, खाना, पानी की व्यवस्था की गयी है,रात्रि विश्राम धोरैया में करेंगे। वहीं कावरियां के साथ साथ चल रहे बेगूसराय व भागलपुर के कलाकारों ने संध्या भजन कीर्तन की प्रस्तुति कर कांवरियों को झूमने पर विवश कर दिया।


 रास्ते में शिवभक्त कुर्मा पंचायत के मुखिया त्रिभुवन प्रसाद, बटसार के मुखिया रजनीश कुमार, पूर्व मुखिया उमेश चन्द्र रजक, पूर्व सरपंच भोला साह, छोटू जी आदि ग्रामीणों के सहयोग से शरबत, लस्सी, पेड़ा, फल, चाय, पान आदि की व्यवस्था किया। पड़ाव संघ के अध्यक्ष संतोष चौधरी ने बताया कि बुधवार को कहलगाँव में गंगा जल भरकर करीब दो हजार काँवरिया निकले है,बुधवार को रात्रि सन्हौला में विश्राम के बाद शुक्रवार को पंजवारा में रात्रि विश्राम किया जायेगा। सावन के दूसरी सोमवार को फ़ौजदारी बाबा पर जलार्पण करेंगे।