Breaking News

कुकर्मों को छुपाने के लिये ओछी बयान दे रहे नीतीश, चुकानी पड़ेगी कीमत : आप



[पटना]    ~अनूप नारायण
आम आदमी पार्टी ने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के बयान को निम्न-स्तरीय बताते हुये कहा कि करीबी नेता-अफसरों को बचाने के लिये वे यह सब कर रहे हैं। पार्टी के प्रदेश प्रवक्ता अमर प्रसाद यादव ने कहा कि 34 नाबालिग लड़कियों के रेप जैसे गंभीर मुद्दे पर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार का ओछा बयान इस विषय के प्रति उनकी असंवेदनशीलता का परिचायक है।

विदित हो कि सोमवार को नीतीश कुमार ने प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान दिल्ली में मुजफ्फरपुर बालिका गृह की घटना के खिलाफ विरोध प्रदर्शन कर रहे लोगों को चार्जशीटेड लोगों का जमावड़ा बताया था एवं उनके हँस-हँस कर धरना देने की बात कही थी।

आप प्रवक्ता अमर प्रसाद यादव ने तंज करते हुये कहा कि अरविन्द केजरीवाल की व्यवहारिक प्रतिक्रिया में खोंट खोजने वाले नीतीश कुमार को ब्रजेश ठाकुर की खिलखिलाती हँसी में मासूमियत नजर आती है।

श्री यादव ने जदयू महिला प्रवक्ताओं की टीम द्वारा तेजस्वी की छेड़खानियों पर चिट्ठी लिखने के सम्बंध में कहा कि देश एवं दुनिया में सब तरफ मुजफ्फरपुर बालिका गृह में हुई घटना को लेकर थू-थू हो रही है, और जदयू को तेजस्वी की छेड़खानियों में ही ज्यादा आकर्षण दिख रहा है। उन्होंने कहा कि अगर तेजस्वी ने कुछ गलत किया है तो जदयू प्रवक्ताओं राबड़ी देवी के बजाय मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को पत्र लिखना चाहिये और आरोपी तेजस्वी एवं तेजप्रताप को गिरफ्तार करवाना चाहिये। सरकार उनकी है, पुलिस-प्रशासन उनका है, तो फिर राबड़ी देवी से शिकायत की जरूरत क्या है।

उन्होंने कहा कि दरअसल राज्य सरकार और जदयू अपने कुकर्मों को छुपाने और आम जनता का ध्यान भटकाने के लिये यह सब कर रही है। यादव ने कहा कि जदयू को आये दिन इस गंभीर विषय का उपहास करने की कीमत चुकानी पड़ेगी।