Breaking News

आप का जदयू पर प्रश्न वार, पार्टी की महिला मोर्चा ने पूछा चार सवाल


[पटना]  ~अनूप नारायण
मुजफ्फरपुर बालिकागृह घटना को लेकर आरोप-प्रत्यारोप के बीच अब आम आदमी पार्टी की महिला मोर्चा ने जदयू महिला प्रवक्ताओं की टीम से पत्र लिखकर चार सवाल पूछा है. इसमें अप्रत्यक्ष रूप से यह भी आरोप लगाया गया है कि मुजफ्फरपुर बालिकागृह के दोषियों को बचाने के लिये जदयू द्वारा बेफ़जूल मुद्दों को उठाने का प्रयास किया जा रहा है. 
मंगलवार को जदयू महिला प्रवक्ता टीम द्वारा प्रतिपक्ष के नेता तेजस्वी यादव के निजी सचिव मणि यादव पर देह व्यापार से जुड़े एक केस में पुलिस महानिदेशक से त्वरित कार्रवाई की माँग की गई थी. उस सन्दर्भ में आम आदमी पार्टी महिला मोर्चा सचिव रीना श्रीवास्तव ने जदयू महिला प्रवक्ताओं की टीम को बधाई देते हुये सवाल किया है कि जब यह मामला 2011 का है और तब से लेकर अब तक राज्य में जदयू की सरकार है, तो फिर इस मामले को लेकर पिछले 7 सालों में वे लोग एक बार भी पुलिस महानिदेशक या मुख्यमंत्री के पास क्यों नहीं गईं ?
आप नेत्री श्रीवास्तव ने यह भी पूछा है कि टाटा इंस्टिट्यूट ऑफ सोशल साइंसेज द्वारा राज्य के 13 बालिकागृहों में नाबालिग बच्चियों के साथ गड़बड़ियों की रिपोर्ट राज्य सरकार को सौंपे जाने के बाद भी जब पिछले 3 महीने से राज्य सरकार कुम्भकरण की नींद सो रही थी, तब जदयू महिला प्रवक्ताओं की टीम एक बार भी दोषियों के खिलाफ त्वरित कार्रवाई की माँग करने पुलिस महानिदेशक अथवा अपनी ही पार्टी के नेता मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के पास क्यों नहीं गईं ?
उन्होंने तीसरा सवाल किया है कि जब विगत जुलाई माह में मीडिया द्वारा यह मामला देश भर में उजागर हुआ और मुजफ्फरपुर बालिकागृह में 34 नाबालिग मासूम बच्चियों के साथ रेप की पुष्टि हुई। उसके बाद से लेकर मामला सी बी आई के हाथ में जाने तक के बीच में जदयू महिला प्रवक्ताओं की टीम एक बार भी दोषी दरिंदों के खिलाफ त्वरित कार्रवाई की माँग करने पुलिस महानिदेशक अथवा अपनी ही पार्टी के नेता मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के पास क्यों नहीं गईं ?
चौथे सवाल के तौर पर आप सचिव रीना श्रीवास्तव ने कहा है कि उन्होंने कल शाम सड़क से गुज़रते हुये एक चाय दुकान पर कुछ लोगों को आपस में चर्चा करते हुये सुना कि जदयू की महिला प्रवक्ता टीम मुजफ्फरपुर बालिकागृह की घटना में शामिल दोषियों को बचाने और उक्त विषय से आम जनता का ध्यान भटकाने के उद्देश्य से तेजस्वी से जुड़े बेफजूल मामलों को उठा रही है। श्रीमती श्रीवास्तव ने जदयू महिला प्रवक्ताओं की टीम से जानना चाहा है कि चौक-चौराहों पर हो रही इस प्रकार की चर्चाओं में कितनी सच्चाई है ?
जदयू महिला प्रवक्ताओं के नाम आप महिला मोर्चा सचिव रीना श्रीवास्तव द्वारा लिखा गया पत्र जदयू प्रदेश कार्यालय के पते पर साधारण डाक द्वारा भेज दिया गया।