Breaking News

द प्रीताज कलेक्शन में उपलब्ध हैं हर तरह के परिधान : मीनाक्षी सिन्हा

पटना (अनूप नारायण) : द प्रीताज क्लेकशन की प्रबंधक मीनाक्षी सिन्हा का कहना है कि उनका बुटिक लेडिज डिजाइनर वियर मार्केट को नई पहचान देगा ।
        राजधानी पटना के जीडी मिश्रा पथ स्थित द प्रीताज क्लेकशन ने अपने ओपनिंग के एक साल पूरे कर लिये हैं।  इस अवसर पर दैनिक जागरण संगिनी क्लब की अध्यक्ष श्रीमती मोनी त्रिपाठी , यूनाईटेड न्यूज ऑफ इंडिया के वरीय अधिकारी श्री प्रेम कुमार और प्राइवेट चिल्ड्रेन वेलफेयर ऐशोसियेशन बिहार के संयुक्त सचिव श्री चिरंतन कुमार मुख्य अतिथी के तौर पर मौजूद थे जिन्हें मोंमेटो देकर सम्मानित किया गया। इस अवसर पर संदीप कुमार रश्मि लता , अनिता कुमार ,अनिता सिंह ,प्रेम लता और नूतन भारती समेत कई गणमान्य लोग भी उपस्थित थे।
        द प्रीताज क्लेकशन की प्रबंधक मीनाक्षी सिन्हा ने बताया कि राजधानी पटना किसी भी मेट्रो शहर से किसी भी मायने में कम नहीं है। हमारा युवा वर्ग फैशन इंडस्ट्री और ग्लैमर जगत से जितना प्रभावित है उतना ही आतुर वह उनमें जाने के लिए भी है। आधुनिक युग में युवा सिर्फ ढंकने और सुंदर बनने के लिए ही कपड़े नहीं पहनता बल्कि अब यह हमारे स्टेट्स और फैशन फंडे का सिंबल बन चुका है। यहां युवाओं की पसंद को ध्यान में रखकर कपड़े मुहैय्या कराये जा रहे है। राजधानी पटना में द प्रीताज क्लेकशन नया ट्रेंड सेट करेगा।
        मीनाक्षी सिन्हा ने कहा कि कि समाज में लोगों के फैशन के प्रति बढ़ती रूचि को बढ़ावा देने के लिये खास तरह से पार्टी , शादी विवाह ,अलग अलग तरह के त्योहार के लिये विशेष ड्रेस रखा गया है जिनमें डिजाइनर सूट ,इंडो वेस्ट्रन ड्रेस , लहंगा ,साड़ी सूट पीस ,लेगिस आदि उचित मूल्य पर मिलते हैं।बुटिक में भारत सरकार के द्वारा जारी डिजीटल इंडिया के तहत सभी तरह के कार्ड से पेमेंट करने की सुविधा उपलब्ध है। 
हमारे यहां बुटिक पर नए डिजाइन के एवं मौसम के अनुसार परिधान मौजूद हैं।शो रूम में सभी साइज की कुर्तियां एवं सलवार सूट उपलब्ध हैं। इसमें खासतौर से अनारकली, मसकली, पटियाला आदि वैरायटी रखी गई है। ईमानदारी एवं ग्राहक से अच्छा संबंध शोरूम के संचालक की पहचान होनी चाहिए।हमारे यहां क्वालिटी से कोई समझौता नहीं किया जाता। शोरूम में हर उम्र एपं वर्ग की महिलाओं की पसंद को ध्यान में रखते हुए डेली वियर से लेकर बाइड्रल वियर तक सब तरह के परिधान मिलेंगे।