Breaking News

जमुई : कर्मचारियों की लापरवाही से सदर अस्पताल के शौचालय में कायम है अँधेरा

[Gidhaur.com | जमुई] :- जिला स्थित सदर अस्पताल में पिछले कुछ महीनों से दो तल्ला के ऊपर वाले शौचालय में रौशनी नहीं रहने के कारण मरीजों को रात में शौचालय के लिए काफी परेशानी का सामना करना पड़ता है।

यह समस्या खासकर उन मरीजों के लिए बढ जाता है जो चल फिर सकने में असमर्थ है।
जबकि सदर अस्पताल के दूसरे तल्ले पर बने कमरा नं. 11 के बगल शौचालय से संलग्न लेडीज टाॅयलेट में लगे दोनों बल्ब जलते हैं।
सदर अस्पताल में कार्यरत् कर्मचारियों के लापरवाही का आलम यह है कि जगह पर लगे बिजली बोर्ड  का सभी स्विच खराब है, पर इसे बदलने की किसी ने जहमत नहीं उठाई ।

ये सर्वविदित है कि, जमुई के सदर अस्पताल में प्रतिदिन औसतन सैंकडों मरीजों का आना जाना लगा रहता है। ऐसे में मरीजों को होने वाली परेशानियों से अस्पताल प्रबंधन पूरी तरह से बेखबर है।
जमुई सदर अस्पताल के शौचालय में रौशनी की व्यवस्था नहीं रहने से रात में शौच के लिए जाने वाले मरीज कभी कभी गिरकर चोटग्रस्त हो जाते हैं, इसके लिए कुछ मरीज टाॅर्च व अन्य साधन का प्रयोग कर शौचालय को व्यवहार में लाते हैं।
इस संदर्भ में पूछने पर कोई भी अस्पताल कर्मी जवाब देने में असमर्थता जताते हैं।
अस्पताल में भर्ती मरीजों के कुछ अभिभावकों ने बताया कि सरकार के निगरानी विभाग के द्वारा बीच-बीच में इसकी जांच किया जाना चाहिए, ताकि इस तरह के और भी समस्याओं का निदान जल्द से जल्द हो सके।

(रूदल पंडित)
03/07/2018, मंगलवार
Edited by - Abhishek Kumar Jha.
www.gidhaur.com