Breaking News

अलीगंज : लोगों को स्वस्थ रखने वाला अस्पताल स्वयं है बिमार

gidhaur.com[अलीगंज (जमुई)] :- एक ओर दूसरे राज्य से बिहार में आए स्वच्छताग्राही के द्वारा लोगों को स्वच्छता का पाठ पढ़ाया जा रहा है, तो वहीं दूसरे ओर अस्पताल में ही स्वच्छता अभियान दम तोड़ रही है।
जी हां, जहां हर लोगों को स्वास्थ्य समबंधित प्रति सैकड़ों लोगों का इलाज किया जाता है, वह अस्पताल खुद गंदगी की भरमार से बीमार है।
बता दें कि, अलीगंज पीएचसी परिसर के चारों तरफ गंदगी का अंबार लगा है। जहां अस्पताल में लोगों को स्वस्थ रहने की नसीहत दी जाती है। वहाँ स्वच्छता से कोई लेना देना ही नही है। पुरे बाजार की कुड़े कचरे व वाहनों का जमावड़ा अस्पताल परिसर में ही लगती है।
ग्रामीण श्यामसुंदर सिंह,जन अधिकार पार्टी के प्रदेश महासचिव महेश सिंह राणा,लोजपा के प्रखंड अधय्क्ष बखोरी पासवान,कांग्रेस के राजेश पासवान,आनंदलाअ पाठक ,जदयु के धर्मेन्द्र कुशवाहा,युवा शक्ति के प्रांतीय नेता शशिशेखर सिंह मुन्ना ने बताया कि पूरे देश में स्वच्छता की मुहिम चल रही है। लेकिन अलीगंज अस्पताल में स्वच्छता से किसी को कुछ लेना देना नही है।
जहां सैकड़ों बीमारियों से ग्रसित लोग अपना इलाज कराने प्रतिदिन आते है। वहीं इलाज कराने तो जरूर आते है और दुसरी बिमारी के शिकार हो जाते है। लोगों ने यह भी बताया कि अस्पताल के मुख्य गेट के सामने ही शौचालय व पेशाबखाना बना हुआ है। जिसमें बाजार करने आये आम लोगों व दुकानदारों के लिए सहुलियत तो जरूर मिलती है, लेकिन अस्पताल परिसर में खुले में युरिनल व शौचालय की गंदी पानी बहने से उसके बदबु व गंदगी से अस्पताल आए मरीजों को काफी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। मरीजों ने बताया कि कई बार अस्पताल प्रभारी से भी शिकायत की गई लेकिन उन्हें इससे कोई लेना देना नही है।
    [कहते हैं सिविल सर्जन]
इस मार्फत पूछे जाने पर सिविल सर्जन श्याम मोहन दास ने बताया कि शिकायत मिली है।अस्पताल परिसर में साफ सफाई रखने का निर्देश दिया गया है।अगर फिर भी नही कराया जाता है।तो अस्पताल प्रभारी पर कारवाई किया जायेगा।

(चन्द्रशेखर सिंह)
अलीगंज  | 14/4/2018, शनिवार
www.gidhaur.com