Breaking News

जीतनराम मांझी पर एक्स एमएलए का हल्लाबोल, लगाया पुत्रमोह का आरोप


Gidhaur.com (सोनो) : जदयू नेता व चकाई के पूर्व विधायक सुमित कुमार सिंह ने एक प्रेस बयान जारी कर कहा कि सीएम नीतीश कुमार पर झूठे लांछन लगाने वालों को सुप्रीम कोर्ट से करार जवाब मिला है।

उन्होंने कहा कि नीतीश कुमार की छवि बेदाग ओर निष्कलंक है। पूर्व मुख्यमंत्री जीतनराम मांझी ने बेदाग व्यक्ति को छोड़ दाग़दारों की अगुवाई को स्वीकार कर लिया। मांझी जी अपने बेटे को किसी भी तरह विधान पार्षद बनाने के लिए होटवार जेल की परिक्रमा तक कर आए।

पहले 2020 में मुख्यमंत्री उम्मीदवार तय होने की बात करने वाले जीतनराम मांझी ने बेटे को एमएलसी बनवाने के लिए तेजस्वी यादव को मुख्यमंत्री उम्मीदवार तक बता दिया। वह राजद प्रमुख और तेजस्वी यादव की जय-जयकार सिर्फ बेटे के राजनीतिक पुनर्वास के लिए कर रहे हैं।

बेटे के एमएलसी बनते ही वह फिर मोल-भाव करने लगेंगे। यह मांझी जी की फितरत है। वह अपने फायदे के लिए कोई भी सौदेबाजी कर सकते हैं।

उन्होंने कहा कि दलित समाज को मुख्यमंत्री पद देने की बात करने वाले मांझी अपने बेटे के लिए उसे राजद के प्रथम परिवार के सुपुर्द कर दिए, क्योंकि मांझी जी केवल अपने परिवार को सर्वोपरि मानते हैं।

जीतनराम मांझी राजद से भी एमएलसी सीट लेने के बाद अपनी राजनीतिक दोहन के खेल का दर्शन कराएंगे। वह न दलित समाज और न ही किसी विचारधारा के प्रति जिम्मेवार हैं। उन्हें सिर्फ कुर्सी, धन और मोलभाव से मतलब है। इसका अहसास एमएलसी चुनाव के बाद राजद को होगा।

चन्द्रदेव बरनवाल
सोनो     |     09/04/2018, सोमवार