Breaking News

गिद्धौर : 33 वर्षों तक पढ़ाने के बाद रिटायर हो गईं बच्चों की 'दीदीजी'


Gidhaur.com (न्यूज़ डेस्क) : विगत 31 मार्च, शनिवार को उत्क्रमित मध्य विद्यालय पतसंडा में तकरीबन 33 वर्षों तक सेवा देने के बाद सहायक शिक्षिका अनीता देवी को सेवानिवृति के उपरांत ससम्मान विदाई दी गई.

इस अवसर पर विदाई सह सम्मान समारोह कार्यक्रम आयोजित किया गया, जिसकी अध्यक्षता विद्यालय के प्रधानाध्यापक युगल किशोर रजक ने की.
सम्मान समारोह को उत्क्रमित मध्य विद्यालय पतसंडा के प्रधानाध्यापक युगल किशोर रजक, कन्या मध्य विद्यालय के प्रभारी प्रधानाध्यापक देवेंद्र प्रसाद कनौजिया, प्रदीप चौधरी, सुशील रजक, विद्या देवी, आशिया प्रवीण, ममता कुमारी, प्रतिमा कुमारी, समन्वयक रीना कुमारी ने भी संबोधित किया एवं विद्यालय से सेवानिवृत्त हो रही शिक्षिका अनीता देवी के कार्यों एवं शिक्षण के क्षेत्र में उनके योगदान के लिए उन्हें धन्यवाद देते हुए उनके भविष्य के लिए मंगलकामनाएं की. 
कार्यक्रम का संचालन कन्या मध्य विद्यालय के शिक्षक राजवंश केसरी ने किया.
मौके पर विद्यालय सचिव गुनगुन देवी, सेवानिवृत्त शिक्षक रामचंद्र केशरी, शिक्षिका नुनुवती देवी, रेखा देवी,
उप मुखिया रूबी देवी, मोहम्मद तोहीद प्रभाकर मौजूद थे. उपस्थित सभी लोगों ने सहायक शिक्षिका अनीता देवी को उपहार भी भेंट किये.
यहाँ बता दें की शिक्षिका अनीता देवी विद्यालय के छात्र-छात्राओं के बीच 'दीदीजी' के नाम से लोकप्रिय रहीं. विद्यालय के अन्य गतिविधियों में भी उनका सराहनीय योगदान रहा है.

सुशान्त साईं सुन्दरम
गिद्धौर      |      08/04/2018, रविवार