Breaking News

शिक्षक संघ की मेहनत लाई रंग, अब 62 साल में रिटायर्ड होंगे गुरूजी

[gidhaur.com | News Desk] :- अब गुरूजी 62 साल में रिटायर होंगे। जी हां, सरकारी विद्यालयों में नियुक्त शिक्षकों की सेवानिवृत्ति सीमा को बढ़ाई जाएगी। जमुई के प्रभारी जिला शिक्षा पदाधिकारी विजय कुमार हिमांशु ने मीडिया से साझा करते हुए बताया कि इसको लेकर विभाग के द्वारा एक निर्देश पत्र आया है डीईओ श्री हिमांशु ने यह भी बताया कि शिक्षकों की सेवानिवृत्ति की वर्तमान उम्र सीमा 60 वर्ष है जिसमें 2 साल की और बढ़ोतरी की जाएगी। यह प्रक्रिया लागू होने के बाद शिक्षक अब 62 वर्ष में सेवानिवृत्त होंगे।

पाठकों को जानकारी से अवगत करते चलें कि, अन्य दूसरे राज्यों में शिक्षकों की सेवानिवृत्ति की उम्र सीमा 62 वर्ष ही है, वर्तमान में चिकित्सक सेवानिवृत्त होने की सीमा 67 वर्ष और विश्वविद्यालय में प्रोफेसर की सेवानिवृत्ति की उम्र 65 वर्ष है। इस विषय को लेकर शिक्षक संघ के नेताओं द्वारा भी लगातार विभाग से मांग भी की जा रही थी, सेवानिवृत्ति की उम्र सीमा में सरकारी विद्यालयों पुराने और अनुबंध वाले शिक्षकों को भी लाभ मिलेगा साथ ही विद्यालय में विषयवार शिक्षकों की कमी भी दूर होगी।
जमुई के प्रभारी डीईओ श्री हिमांशु ने मीडिया से अपनी बात साझा करते हुए यह भी बताया कि वर्तमान में यह स्थिति बन गई है कि विद्यालय में पुराने वेतन वाले विषय पर सभी शिक्षक अगले 2 से 3 वर्ष में सेवानिवृत्त हो जाएंगे वहीं वर्तमान में नियोजित शिक्षकों के भी कई पद अभ्यर्थियों के अभाव में नहीं भरे जा रहे हैं।

(अभिषेक कुमार झा)
गिद्धौर | 24/4/2018, मंगलवार
www.gidhaur.com