Breaking News

गिद्धौर : रतनपुर में धूमधाम से चैती दुर्गा मेला का किया जाता है आयोजन

[gidhaur.com | गिद्धौर/रतनपुर] :- प्रखंड  अंतर्गत रतनपुर के दुर्गा स्थान में पिछले 70 वर्षों से चैती दुर्गा माता की पूजा अर्चना होते आ रही है। इस मंदिर में इलाके के लोगों में आस्था एवं विश्वास का केंद्र है । मां के दरबार में सच्चे मन से मुरादे मांगने वाले भक्तों की मनोकामना पूरी होती है। रतनपुर पंचायत के वर्तमान मुखिया राजेश सिंह उर्फ रावल सामंत सिंह ने बताया कि इस दुर्गा मंदिर में 2 दिन तक मेला लगता है। नवमी को माता के प्राण प्रतिष्ठा की शुरुआत होती है एवं इस इलाके के हजारों श्रद्धालुओं श्रद्धा एवं अखंड विश्वास के साथ माता दुर्गा की प्रतिमा की दर्शन एवं उसकी आराधना करते नजर आते हैं। 2 दिनों तक यहां भव्य मेला लगा रहता है हजारों भक्तगणों की भीड़ मेला में दिखाई पड़ता है। मंदिर एवं आसपास जगह में कलरफुल लाइट मरकरी आदि से सजाया जाता है मिठाई, झूले, चाट एवं खिलौने की दुकान इस मेला की शोभा बढ़ाती है। मां की जयकारों से देवी दुर्गा मंदिर में गूंजते रहते हैं चैत्र नवरात्र को लेकर शाम के समय मंदिरों में आरती के लिए महिलाओं की भीड़ लगी रहती है। महिलाएं की धार्मिक गीतों की प्रस्तुति से मंदिर परिसर भक्तिमय में हो जाता है वैदिक मंत्रोचार के साथ माता की पूजा धूमधाम से की जाती है।
वहीं दशमी को पूरे भक्ति एवं श्रद्धा के साथ माता की प्रतिमा का विसर्जन रतनपुर के समीप गढ़वा नदी के उत्तरी भाग में किया जाता है यहां हर कोई का मनोकामना पूरी होती है बस अटूट विश्वास होनी चाहिए।
बता दें कि, यहां दुर्गा पूजा सह काली पूजा कमेटी के गठन में अध्यक्ष कन्हैया जी ,सचिव डॉक्टर जागेश्वर रजक, कोषाध्यक्ष गोपाल केशरी तथा वर्तमान मुखिया ,रतनपुर गांव के वार्ड सदस्यों एवं ग्रामीणों के द्वारा सहयोग राशि उपलब्ध करके इस दुर्गा पूजा मेला की आयोजन धूमधाम से की जाती है। वही लगभग 40 सालों से माता की प्रतिमा का निर्माण सुदामा पुर निवासी मूर्तिकार नूनूदेव रविदास कर रहे हैं।

भीम राज
रतनपुर | 25/3/2018, रविवार
www.gidhaur.com