Breaking News

गंगरा : बाबा कोकिलचन्द धाम को धार्मिक पर्यटन स्थल के रूप में विकास को लेकर श्रम मंत्री से किया आग्रह

   *[गिद्धौर | अभिषेक कुमार झा] :- गिद्धौर प्रखंड अंतर्गत स्थित बाबा कोकिलचन्द धाम गंगरा को धार्मिक पर्यटन स्थल के रूप में विकसित करने एवं शराब मुक्त ग्राम की सूची में शामिल करने के संबंध में बाबा कोकिलचन्द विचार मंच जमुई के संयोजक चुनचुन कुमार ने महादेव सिमेरिया में बिहार सरकार के माननीय श्रमसंसाधन मंत्री विजय कुमार सिन्हा से अपील की।
इस संदर्भ में बिहार सरकार के श्रम मंत्री श्री सिन्हा को लिखित आवेदन सौंपा है जिसमें उन्होंने कहा है कि, गिद्धौर प्रखंड अंतर्गत ग्राम गंगरा में 700 वर्ष प्राचीन लोक देव बाबा कोकिलचंद की प्राचीन पिंड मंदिर है जो गिद्धौर महाराजा द्वारा स्थापित कराया गया था, क्योंकि अपने तप और आध्यात्मिक चेतना द्वारा गिद्धौर नरेश को प्राण रक्षा एवं यश कृति प्राप्त करने का आशीर्वाद दिया था।

बाबा कोकिलचंद की पूजा-अर्चना ग्राम गंगरा के साथ-साथ देवघर मंदिर प्रांगण में शिव पार्षद के रूप में भी होती है। जमुई जिला के दर्जनों गांवों में भी इनकी पूजा-अर्चना होती है।यहां  हजारों श्रद्धालुओं का सदैव आते रहना बाबा कोकिलचंद की असीम कृपा मानी जाती है।
मंच के संयोजक चुनचुन कुमार ने बिहार सरकार के श्रम मंत्री से अनुरोध करते हुए बाबा कोकिल धाम गंगरा को भी अन्य धार्मिक स्थलों एवं पर्यटन के रूप में विकसित करने की मांग की है, जिसपर सकारात्मक प्रतिक्रिया दिखाते हुए श्री सिन्हा ने संयोजक चुनचुन कुमार को इस सुंदर्भ में सकारात्मक आश्वासन भी दिया है।

संयोजक चुन चुन कुमार के साथ ,बाबाकोकिलचंद विचार मंच सिकंदरा के मुख्य व्यवस्थापक मनोज कुमार सिंह ,झाझा के मुख्य व्यवस्थापक गौरव सिंह राठौर ,भाजपा के पूर्व जिला अध्यक्ष सह विचार मंच के मार्गदर्शक मंडल सदस्य नवल सिंह ,विकास प्रसाद सिंह भाजपा ,राहुल भवेश सिंह आदि साथ रहे।
(News Desk) 14/3/2018,wednesday