Breaking News

गिद्धौर : टेढ़े मेढ़े कच्चे रास्तों से होकर विद्यालय पहुंचते हैं शिक्षक और शिक्षार्थी


  *[गिद्धौर|अभिषेक कुमार झा] :- प्रखंड अंतर्गत उत्क्रमित मध्य विद्यालय बरदघट्टा में कदाचार मुक्त माहौल में वार्षिक मूल्यांकन परीक्षा जारी है। विद्यालय के प्रभारी प्राचार्य चुनचुन कुमार ने कदाचार मुक्त परीक्षा का दावा करते हुए बताया कि यहां के बच्चे भविष्य में कुछ बेहतर कर विद्यालय और समाज का नाम रौशन करें इस उद्देश्य से विद्यालय में नकलवीहिन परीक्षा संचालित की जा रही है।
हलांकि कुछ बच्चे इस परीक्षा को लेकर अनियमितता दिखा रहे हैं, पर इसके अतिरिक्त यदि नियमित बच्चों की बात की जाए तो उनमें भी परीक्षा को लेकर काफी उत्सुकता देखी जा रही है।
  • *ये है विद्यालय का सूरत-ए-हाल*
यह गिद्धौर प्रखंड का एकलौता विद्यालय है जहां के छात्र छात्राएं को शिक्षा ग्रहण करने के लिए  पगडंडियों के सहारे अपने विद्यालय को आना पड़ता है। बात सिर्फ बच्चों तक खतम नहीं होती यहां के शिक्षकों का भी यही आलम है।
इतने संसाधनहीन व्यवस्था में भी छात्र छात्राओं की उपस्थिति विद्यालय में संतोषजनक रहती है।शुक्रवार को चल रहे वार्षिक मूल्यांकन परीक्षा के दरमियां भी छात्र छात्राओं की उपस्थिति संतोष जनक रही।

खबर लिखने का आशय स्पष्ट करता चलूं कि,रोजाना इस टेडे मेडे कच्चे बहियार के रास्तों से होकर स्थानीय बच्चे स्कूल पहूचकर किसी तरह अपना भविष्य उज्जवल बनाने के रेस में लगे हैं जो अपने आप में सराहनीय और समाज के लिए प्रेरणादायक है।
(न्यूज़ डेस्क)
17/03/2018,शनिवार