Breaking News

सोनो : एनएच 333 पर लगा कचड़े का अम्बार, जलजमाव से सोनो चौक पर फैली दुर्गन्ध

Gidhaur.com (सोनो) : एक तरफ जहां केंद्र सरकार द्वारा चलाए जा रहे स्वच्छता अभियान को लेकर लाखों रुपए खर्च किए जा रहे हैं वहीं दूसरी ओर सोनो-झाझा मुख्य मार्ग एनएच 333 पर कचरों का अंबार जमा होने लगा है.

बताते चलें कि उक्त मार्ग के समीप स्थित कस्तूरबा गांधी आवासीय बालिका उच्च विद्यालय के कर्मचारियों द्वारा पिछले कई वर्षों से प्रतिदिन विद्यालय की सफाई के बाद कचड़ा सड़क किनारे फेंक दिया जाता है. लम्बे समय से कचड़ा फेंके जाने के कारण आज यह ढेर के रूप में जमा हो गया है. जिस कारण उक्त मार्ग पर तेज रफ्तार से चलने वाली सभी छोटी-बड़ी वाहनों के कारण जमा कचड़े की धूल उड़ने से राहगीरों को काफी परेशानियों का सामना करना पड़ता है.

साथ ही सड़क किनारे बसे लोगों को प्रतिदिन इस धूल का सामना करना पड़ता है. तेज रफ्तार से चलती वाहनों से उड़ती इस गंदगी भरे धुल के सीधा नाक द्वारा अंदर प्रवेश कर जाने से विभिन्न प्रकार के रोग होने की संभावना से भी इंकार नहीं किया जा सकता है.

इसके अलावा सोनो चौक स्थित टेम्पो स्टेंड के समीप चापाकल से निकलने वाले पानी का निकासी नहीं रहने के कारण चौक के सड़क के किनारे जलजमाव होने से दुर्गंध होने लगी है. सोनो प्रखंड के कई गांवों से प्रतिदिन हजारों लोग एक स्थान से दूसरे स्थान तक जाने के लिए यहां पहुंचते हैं, तथा वाहनों के आने का घंटों तक इंतजार करते रहते हैं. ऐसे में उन्हें इन गंदगी युक्त दुर्गंध तथा उड़ती धुल का सामना करना पड़ता है.

सड़क के आसपास रहने वाले दर्जनों लोगों ने सोनो चौक पर जमा हो रहे कचड़े के अंबार को रोकने तथा चापाकल से बहते पानी की निकासी कराने की मांग जिला पदाधिकारी जमुई से की है.

चन्द्रदेव बरनवाल
सोनो     |     30/03/2018, शुक्रवार