Breaking News

युवाओं के लिए ज्वलंत प्रेरणास्रोत है विवेकानंद का जीवन : सुशान्त

Gidhaur.com (न्यूज़ डेस्क) : विदेशी सरजमीं पर भी हिंदी, हिन्दू और हिंदुस्तान का शंखनाद करने वाले स्वामी विवेकानंद की जयंती हर साल 12 जनवरी को भारत में राष्ट्रीय युवा दिवस के रूप में मनाई जाती है।
स्वामी विवेकानंद ने अपनी बुद्धिमता एवं ओजस्विता से हिंदुस्तान का नाम विश्व मानचित्र  पर स्वर्णांकित किया। उन्होंने अपनी तेजस्विता से भारतवासियों का ही नहीं बल्कि पूरी मानवता का गौरव बढ़ाया। शिकागो में आयोजित हुए विश्व धर्म सम्मेलन में भाग लेते हुए अपनी मातृभाषा हिंदी में संबोधित कर उन्होंने विश्व के लोगों को भारत के आध्यात्म का रसपान कराया। उक्त बातें युवा सामाजिक कार्यकर्ता व मिलेनियम स्टार फाउंडेशन के प्रेजिडेंट सुशान्त साईं सुन्दरम ने शुक्रवार को स्वामी विवेकानंद की 155वीं जयंती राष्ट्रीय युवा दिवस के अवसर पर कही।
उन्होंने कहा कि स्वामी विवेकानंद का जीवन युवाओं के लिए ज्वलंत प्रेरणास्रोत है। विवेकानंद देश के वो अमूल्य धरोहर हैं जिन्होंने भारतीय संस्कृति व स्वाभिमान को एक नई दिशा दी। उनके विचारों पर अमल कर देश का हर युवा इसके उत्थान में अपना योगदान दे सकता है।
अभिषेक कुमार झा
गिद्धौर     |      12/01/2018, शुक्रवार