Breaking News

चकाई में हुआ सोहराय महामिलन समारोह का भव्य आयोजन

Gidhaur.com (चकाई) : संथाल समाज के तत्वावधान में मंगलवार को स्थानीय एसके हाईस्कुल परिसर में भव्य सोहराय मिलन समारोह का आयोजन किया गया। कार्यक्रम का शुभांरभ समाजसेवी आई पी गुप्ता, जिला पार्षद रामलखन मुर्मु, झामुमों नेता ओकारनाथ बरनवाल एवं लुकस सौरेन ने संयुक्त रूप से दीप प्रज्वलित कर किया। मौके पर लोगों को संबोधित करते हुए मुख्य अतिथि समाजसेवी आई पी गुप्ता ने कहा की आजादी के सालों बाद भी आदिवासीयों को सरकारी योजनाओं का लाभ नही मिल पाया है जिससे यह समाज किसी तरह जीवनयापन करने को विवश है। श्री गुप्ता ने समाज के युवक-युवतियों से शिक्षित होकर संर्घष कर अपना हक और अधिकार लेने की अपील की।

गुप्ता ने कहा की आज भी प्रखंड के बोंगी बरमोरिया जैसे आदिवासी बहुल इलाके में लोगो को मुलभुत सुविधा उपलब्ध नही है। उन्होने जिला प्रशासन से वैसे क्षेत्रों में शीघ्र सुविधा उपल्बध कराने की मांग की।

वही कार्यक्रम के मुख्य आयोजक सह आदिवासी जनसंर्घष र्मोचा के अध्यक्ष जिला पार्षद रामलखन मुर्मु ने कहा की 25 दिसबंर से जनवरी माह तक चलने वाले आदिवासी समाज के भाई बहन का यह पर्व ऐतिहासीक तरीके से आज मनाया जा रहा है जिससे समाज को एक करने का मौका मिलता है। मुर्म ने आदिवासी युवकों से अपील करते हुए कहा की देश एवं समाज को आगे बढाने के लिए इंसानों को सोचना होगा। उन्होने कहा की आदिवासीयों को सरकार आरक्षण में कटौती कर रही है जिसे समाज बर्दाश्त नही करेगा तथा एकजुट होकर संर्घष करेगा। श्री मुर्मु ने कहा की पुलिस प्रशासन जंगल में रह रहे आदिवासीयों को नक्सली कहकर परेशान कर रही है जिसका समाज विरोध करता है।

हजारों की संख्या में आदिवासीयों समुदाय के लोगो ने लिया भाग
समारोह में करीब 10 हजार आदिवासी समुदाय के लोगों ने शिरकत किया। इस मौके पर समाज की युवतियों ने पारंपरिक नृत्य गीत एवं कई कार्यक्रम प्रस्तुत कर लोगों की भरपुर तालीया बटोरी। समारोह को समिति के अनिल मुर्मु, भाजपा नेता रंजीत सिंह, अरविंद कुमार, गोविंद सिंह राठौर, भोला बास्के, नरेश तांती, मंझला बास्के, शामेल बास्के, मुन्ना बेसरा, रोहित पासवान, सुनील मरांडी, बाहुबली प्रशांत, संग्राम हांसदा आदि ने संबोधित किया।

ढोल और मांदर पर थिरकती युवतीयां बनी रही आकृषण का केन्द्र
कार्यक्रम की अध्यक्षता मंजु सोरेन एवं मंच संचालन अनिल मुर्मु ने किया। कार्यक्रम समापन के बाद आदिवासीयों ने चकाई बाजार में जुलुस निकालकर अपनी एकता का प्रर्दशन किया। इससे पुर्व आदिवासीयों युवतीयों ने स्वागत गीत एवं माल्यार्पण कर मुख्य अतिथियों का स्वागत किया।

सुधीर कुमार यादव
चकाई       |      31/01/2018, बुधवार