Breaking News

चकाई : उत्क्रमित हाईस्कूल सिमरीया विशनपुर में अनियमितता को लेकर छात्रों ने किया हंगामा


Gidhaur.com (चकाई) : प्रखंड के उत्क्रमित उच्च हाईस्कूल सिमरीया में सोमवार को छात्रों ने हेडमास्टर के खिलाफ जमकर हंगामा मचाया और दोषी पर कड़ी कारवाई की मांग की। छात्रों ने इस दौरान स्कूल के शिक्षकों के विरोध में नारेबाजी भी की। छात्रा आरती कुमारी, लवली कुमारी, अन्नु कुमारी, निक्की कुमारी, पूजा कुमारी, काजल कुमारी, छात्र मुन्ना कुमार, शैलेन्द्र कुमार ने बताया कि स्कूल में शिक्षकों की मनमानी चरम पर है। जिससे स्कूल में पठन-पाठन का कार्य ठीक ढंग से नहीं होता है। शिक्षक समय पर स्कूल नहीं आते हैं।

11 बजे लेट नहीं और दो बजे भेंट नहीं की तर्ज पर स्कूल का संचालन होता है। कक्षा 9 एवं 10 के छात्राओं को अबतक छात्रवृत्ति, पोशाक एवं साईकिल राशि नहीं दिया गया है। वहीं कक्षा 1 से 8 तक के भी कई छात्र पोशाक एवं छात्रवृत्ति की राशि से वंचित हैं। छात्रों से छात्रवृत्ति  एवं पोशाक राशि के नाम पर दो-दो सौ रूपये की वसुली की गई है। एमडीएम के नाम पर महज खानापूर्ति की जाती है। बच्चों के भोजन को शिक्षक अपना निवाला बना रहे हैं। स्कूल में ही अकसर मुर्गा पार्टी किया जाता है।

वहीं छात्रों का कहना था कि मैट्रिक प्रेक्टिकल परीक्षा में नंबर देने के नाम पर प्रभारी एचएम गंगाधर पाण्डेय एवं एक सहायक शिक्षक द्वारा चार सौ रूपये की मांग की गई थी। लेकिन एक शिक्षक के ही विरोध के कारण उनलोगों की पैसे वसुलने की मंशा सफल नहीं हो सकी। जिसको लेकर संबंधित शिक्षकों के बीच विवाद भी हुआ और मामला मारपीट तक जा पहुंचा।

आखिर जब स्कूल में शिक्षक आपस में ही झगड़ा करेंगे तो बच्चों को वे क्या शिक्षा देगें? शिक्षक स्कूल में पढ़ाने की बजाय राजनीति करते हैं और आपस में गप्पें लड़ाने में मशगुल रहते हैं। छात्रों ने  स्कूली व्यवस्था में सुधार के लिए स्थानीय शिक्षकों को विद्यालय से हटाने जाने की मांग की।

इस बाबत पूछे जाने पर उक्त विद्यालय के हेडमास्टर गंगाधर पांडेय ने बताया कि कक्षा 9 एवं 10 के छात्रों के लिए राशि अभी नहीं आई है। राशि आते ही बच्चों के खाते में ट्रांसफर कर दी जायेगी। कक्षा 1 से 8 तक के जिन बच्चों के खाते में राशि नहीं गई है उनसे अद्यतन बैंक खाता का छाया प्रति उपलब्ध कराने को कहा गया है।

सुधीर कुमार यादव
चकाई       |      29/01/2018, सोमवार