Breaking News

सोनो : पट खुलते ही माता के दर्शन को उमड़ी श्रद्धालुओं की भीड़

Gidhaur.com (सोनो) : बुधवार की रात माता भवानी के पट खुलने के बाद गुरुवार की सुबह से ही बटिया, बोझायत, सोनो तथा महेश्वरी गांव में स्थापित की गई माता दुर्गा की प्रतिमा का दर्शन करने महिला व पुरुषों की भीड़ उमड़ पड़ी। सभी मंदिरों में हज़ारों महिला व पुरुषों ने माँ दुर्गा का दर्शन किया। इसके अलावा सैंकड़ों श्रद्धालुओं ने दंडवत कर देवी की आराधना की।
भीड़ को लेकर सभी मंदिरों में समिति की ओर से समुचित व्यवस्था की गई है। मंदिर के समीप प्रसाद बेचने वाले दुकानों में नारियल, फल, झांप आदि की बिक्री अधिक देखी गई। दुर्गा पूजा और मुहर्रम का पर्व एक साथ होने की वजह से सोनो तथा चरका पत्थर थाना की पुलिस को कड़ी निगरानी के साथ पेट्रोलिंग करते देखा गया। 

यहां बताते चलें कि नवरात्र माँ दुर्गा की पूजा उपासना का पर्व है और यह माना जाता है कि इस दौरान ब्रह्माण्ड के सभी ग्रह एकत्रित होकर सक्रिय हो जाते हैं। कई बार इन ग्रहों का दुष्प्रभाव मानव जीवन पर भी पड़ता है। इसी दुष्प्रभाव से बचने के लिए नवरात्र में देवी की पूजा की जाती है। माता भवानी दुखों का नाश करने वाली देवी हैं। इसलिए नौ दिनों तक की जाने वाली नवरात्रि पुजा श्रद्धा-आस्था के साथ की जाती है। जिस कारण उनकी सभी नौ शक्तियां जागृत होकर सभी नौ ग्रहों को नियंत्रित कर देती हैं।
माता की नवरात्रि पूजा सर्व प्रथम भगवान श्री राम चन्द्र ने समुद्र के किनारे किया था और लंका की तरफ प्रस्थान किये थे। जिसमें उन्होंने युद्ध में विजय प्राप्त की थी। इसलिए जहां दसवें दिन विजयादशमी के रूप में दशहरा मनाया जाता है, वहीं अधर्म पर धर्म की जीत, असत्य पर सत्य की जीत के लिए दशहरा मनाया जाता है। बताया जाता है कि नवरात्रि के दौरान माँ दुर्गा कैलाश को छोड़कर धरती पर आकर रहती हैं। 

(चन्द्रदेव बरनवाल)
सोनो     |     28/09/2017, गुरुवार